हिसार में बन रहे 500 बेड के कोविड अस्पताल का काम तेज़ी से जारी, एक सप्ताह में होगा शुरु

हिसार में 500 बेड वाला अस्थायी कोविड हॉस्पिटल बनकर तैयार होगा.

हिसार में 500 बेड वाला अस्थायी कोविड हॉस्पिटल बनकर तैयार होगा.

Covid Care Hospital: सभी 500 बेड पर मरीज को देने के लिए ऑक्सिजन की सुविधा होगी, जो सीधे जिंदल स्टील फैक्ट्री से मरीजों के बेड तक पाइपलाइन से पहुंचायी जायेगी.

  • Share this:

हिसार. जिले के ओपी जिंदल मार्डन स्कूल में डीआरडीओ (DRDO) की मदद से हरियाणा सरकार (Haryana Government) 500 बेड का कोविड अस्पताल बनवा रही है. इस अस्पताल से पूरा प्रशासन और जनता काफी उम्मीदें लगाये बैठा है. उम्मीदें हों भी क्यों नहीं, एक साथ 500 बेड की सुविधा मिलने के बाद कोरोना महामारी के इस दौर में मरीजों को काफी राहत मिल जायेगी. शहर में अस्पतालों के चक्कर लगाकर भी मरीज के लिए बेड नहीं मिलने की समस्या दूर हो जायेगी.

ओपी जिंदल मॉर्डन स्कूल में बन रहे इस कोविड अस्पताल में दो हैंगर्स और एक स्कूल की बिल्डिंग में मरीजों के लिए इंतजाम किये जा रहे हैं. टेंपरेरी हैंगर्स के अंदर अस्पताल का सेटअप तैयार किया जा रहा है. जिस तेजी से काम चल रहा है, उस हिसाब से भी अभी लगभग एक हफ्ते और इस पूरे अस्पताल को शुरू होने में लग जायेंगे.

जिला प्रशासन इस अस्पताल को चरणबद्ध तरीके से शुरू करना चाह रहा था. लेकिन ये अस्पताल एक साथ पूरी क्षमता के साथ ही शुरू किया जायेगा, क्योंकि कुछ बेड शुरू में चालू करके कोविड पेशेंट को भर्ती करने पर बाकि हिस्से का काम प्रभावित हो सकता है. मजदूर कोविड मरीजों के कारण काम नहीं करेंगे, इसी सोच के साथ पूरे अस्पताल को एक साथ शुरू किया जायेगा. हैंगर्स के अलावा स्कूल की बिल्डिंग में बने क्लासरूम को भी मरीजों को भर्ती करने के लिए प्रयोग किये जायेंगे. इसके लिए बिल्डिंग में ऑक्सिजन पाइपलाइन भी बिछाई जा रही है.

खास बात ये है कि यहां सभी 500 बेड पर मरीज को देने के लिए ऑक्सिजन की सुविधा होगी, जो सीधे जिंदल स्टील फैक्ट्री से मरीजों के बेड तक पाइपलाइन से पहुंचायी जायेगी. फिलहाल यहां किसी भी प्रकार के आईसीयू या वेंटीलेटर का प्रावधान नहीं रखा गया है. लेकिन विधानसभा के डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा व हिसार के विधायक डा. कमल गुप्ता चाहते हैं कि यहां गंभीर मरीजों के लिए आईसीयू वार्ड का भी प्रबंध किया जाये.
गुरुवार को जिला उपायुक्त डा. प्रियंका सोनी, डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा व विधायक डा. कमल गुप्ता ने अन्य सरकारी अधिकारियों के साथ इस निर्माणाधीन अस्पताल का दौरा किया और स्थिति का जायजा लिया. उन्होंने यहां चल रहे कार्य के स्टेट्स की जानकारी ली और अपनी तरफ से भी कुछ सुझाव डीआरडीओ तक पहुंचाने के लिए कहा. इस मौके पर रणबीर गंगवा ने सरकार की तरफ से कोरोना राहत के लिए किये जा रहे कार्यों की जानकारी दी. साथ ही बताया कि एम्बूलेंस संचालकों के साथ प्रति किलोमीटर रेट का मुद्दा समाप्त हो गया है. एम्बुलेंस संचालकों के साथ प्रशासन की नये रेट्स पर सहमति बन गयी है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज