Home /News /haryana /

ड्रग के शिकार लोगों को अपराधी की तरह ना देखें, उनके प्रति संवेदनशील रवैया अपनाएं : नरेंद्र मोदी

ड्रग के शिकार लोगों को अपराधी की तरह ना देखें, उनके प्रति संवेदनशील रवैया अपनाएं : नरेंद्र मोदी

आर्ट ऑफ लिविंग संस्था द्वारा आयोजित ड्रग-फ्री इंडिया अभियान कार्यक्रम में श्री श्री रवि शंकर को डीएससी की मानद उपाधि से सम्मानित करते सीएम मनोहर लाल खट्टर

आर्ट ऑफ लिविंग संस्था द्वारा आयोजित ड्रग-फ्री इंडिया अभियान कार्यक्रम में श्री श्री रवि शंकर को डीएससी की मानद उपाधि से सम्मानित करते सीएम मनोहर लाल खट्टर

पीएम मोदी ने कहा ड्रग्स का सेवन करने वाले लोग जाने-अनजाने उन लोगों का साथ दे रहे हैं जो हमारे बहादुर जवानों की हत्या में शामिल हैं. ड्रग्स कारोबारियों के संपर्क विदेशी ताकतों से होते हैं जो देश की युवा शक्ति और आर्थिक मजबूती को खोखला करने का प्रयास करते हैं.

अधिक पढ़ें ...
    गुरु जंभेश्वर विश्वविद्यालय परिसर में आर्ट ऑफ लिविंग संस्था द्वारा आयोजित ड्रग-फ्री इंडिया अभियान कार्यक्रम को टेली-कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ड्रग्स के सेवन से आतंकवादियों के हाथ मजबूत होते हैं. नारकोटिक्स ट्रेड को देशद्रोही व असामाजिक तत्व नियंत्रित करते हैं जो ड्रग्स के व्यापार से मिलने वाले पैसे का प्रयोग हथियार व गोला-बारूद खरीदने में करते हैं. इनका इस्तेमाल हमारे सैनिकों को मारने के लिए किया जाता है.

    कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की जबकि आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक व आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की. कार्यक्रम में अनेक फिल्मी हस्तियों के अलावा 20 हजार से अधिक युवाओं ने भागीदारी की.गुरु जंभेश्वर विश्वविद्यालय ने श्री श्री रविशंकर को डॉक्टर ऑफ साइंस कीउपाधि देकर सम्मानित किया.

    पीएम मोदी ने कहा ड्रग्स का सेवन करने वाले लोग जाने-अनजाने उन लोगों का साथ दे रहे हैं जो हमारे बहादुर जवानों की हत्या में शामिल हैं. ड्रग्स कारोबारियों के संपर्क विदेशी ताकतों से होते हैं जो देश की युवा शक्ति और आर्थिक मजबूती को खोखला करने का प्रयास करते हैं. उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा सीमा पार से नशे के अवैध व्यापार को रोकने और ड्रग्स कारोबार की रीढ़ तोड़ने के लिए नेशनल एक्शन प्लान बनाया गया है, जो 2018 में लागू हो चुका है.

    प्रधानमंत्री ने बताया कि वर्ष 2025 को ध्यान में रखते हुए ड्रग्स एडिक्शन के विरुद्ध विस्तृत कार्ययोजना बनाई गई है. इसमें लोगों को इसके प्रति जागरूक करने, इसकी रोकथाम, संवेदनशील वर्गों में इसके प्रति विशेष अभियान आदि शामिल है. प्रधानमंत्री ने लोगों से अपील की कि वे ड्रग के शिकार लोगों को अपराधी की तरह न देखते हुए उनके प्रति संवेदनशील रवैया अपनाएं.उन्हें समाज की मुख्य धारा से जोड़ते हुए इन गुमराह युवाओं को सही रास्ता दिखाएं.

    आर्ट ऑफ लिविंग संस्था के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने कार्यक्रम में पहुंचे युवाओं की अपार भीड़ के उत्साह को देखते हुए कहा कि हमें यह जोश बनाए रखना है और इसे बढ़ाना है. उन्होंने कहा कि जो नशा करते हैं उनके चेहरे देखो. यदि नशा करने में जीवन का सुख होता तो मैं भी सबको ऐसा करने की शिक्षा देता लेकिन वास्तव में असली सुख तो जीवन और खुशी में होता है.

    श्री श्री रवि शंकर ने कहा कि कुछ लोग बहस करने के लिए कह देते हैं कि भगवान शिव भी तो भांग का नशा करते थे. मैं उनसे पूछता हूं कि क्या किसी ने भगवान शिव को नशा करते हुए देखा था. फिर यह क्यों भूल जाते हो कि भगवान शिव ने तो जहर भी पिया था, फिर तुम जहर क्यों नहीं पीते हो. उन्होंने पूछा कि क्या हममे से कोई भी व्यक्ति ऐसे डॉक्टर को अपना ऑपरेशन करने देगा जिसने नशा कर रखा हो.
    श्री श्री ने कहा कि जीवन का असली मजा होश में है, बेहोशी में तो गलतियां ही होती हैं.


    यह भी पढ़ें - पुलवामा आतंकी हमले पर कश्मीरी छात्रा का आपत्तिजनक पोस्ट, यूनिवर्सिटी ने किया निष्कासित


    यह भी पढ़ें - इमरान खान को कैप्टन अमरिंदर का जवाब- मसूद अजहर को नहीं पकड़ पा रहे हो तो हमें बताओ

    Tags: हिसार

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर