Home /News /haryana /

हिसार: युवक के मर्डर के 12 दिन बाद भी परिजनों का विरोध जारी, चंद्रशेखर रावण पहुंचे मिलने

हिसार: युवक के मर्डर के 12 दिन बाद भी परिजनों का विरोध जारी, चंद्रशेखर रावण पहुंचे मिलने

हिसार में हुए युवक के मर्डर के 12 दिन बाद भी परिजनों ने शव नहीं लिया और अपनी मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

हिसार में हुए युवक के मर्डर के 12 दिन बाद भी परिजनों ने शव नहीं लिया और अपनी मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

Hisar Musder Case: मृतक विनोद के परिजनों की मांग है कि उनको 50 लाख का मुआवजा, सरकारी नौकरी दी जाए और हत्याकांड में शामिल 17 आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए. अभी तक पुलिस इस मर्डर केस में 9 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है. प्रशासन की तरफ से परिजनों को 4 लाख 50 हजार रुपए आर्थिक सहायता के तौर पर दे चुका है. 14 दिसंबर मंगलवार को मिरकां गांव के विनोद को गांव के ही कुछ लोगों ने पानी की मोटर चोरी के शक में बुरी तरह से पीटा था. ज्यादा चोट के कारण विनोद की अस्पताल में मौत हो गई थी. मृतक के शव का पोस्टमार्टम हो जाने के बाद भी परिजनों ने शव नहीं लिया है और अस्पताल में ही 12 दिनों से धरना दे रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

हिसार. हरियाणा के हिसार जिले के गांव मिरकां में हुए मर्डर केस (Hisar Murder Case ) में 12 दिन बाद भी मृतक के परिजनों और सरकार के बीच सुलह नहीं हो पाया है. मृतक विनोद का शव (Vinod Dead Body) नागरिक अस्पताल की मोर्चरी में रखा हुआ है. मांगे पूरी हुए बगैर परिजन शव लेने को तैयार नहीं हैं. परिजनों के अनुसार सरकार और प्रशासन उनकी मांगों पर सुनवाई नहीं कर रहा है, इसी कारण से शनिवार को हिसार से भाजपा MLA कमल गुप्ता (Kamal Gupta) के आवास का घेराव किया.

भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर रावण (Chandra shekhar Rawan) ने पीड़ित परिवार से बात की और उनकी हर संभव मदद का भरोसा दिया. विधायक आवास के बाहर जिले के अलग-अलग 33 संगठनों ने इस विरोध प्रदर्शन में भाग लिया और विधायक के घर के बाहर जोरदार प्रदर्शन किया. धरने के बाद पीड़ित परिवार की मांगों का समर्थन करते हुए विधायक आवास पर ज्ञापन दिया गया.

पुलिस ने बढ़ाई विधायक के घर पर सुरक्षा 

प्रदर्शन की कॉल को देखते हुए प्रशासन ने मलिक चौक पर स्थित डॉ कमल गुप्ता के आवास के बाहर बैरिकेडिंग करके सुरक्षा बढ़ाई। मृतक के परिजन व अन्य संगठनों के लोग नागरिक अस्पताल में जमा हुए और उसके बाद शहर में प्रदर्शन करते हुए मलिक चौक स्थित विधायक कमल गुप्ता के आवास तक गए.

प्रदर्शन के बाद यूपी से आजाद समाज पार्टी के नेता एवं भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर रावण ने पीड़ित परिवार से बात की और उनकी हर संभव मदद का भरोसा दिया.

ये है मांग 

मृतक विनोद के परिजनों की मांग है कि उनको 50 लाख का मुआवजा, सरकारी नौकरी दी जाए और हत्याकांड में शामिल 17 आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए. अभी तक पुलिस इस मर्डर केस में 9 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है. प्रशासन की तरफ से परिजनों को 4 लाख 50 हजार रुपए आर्थिक सहायता के तौर पर दे चुका है.

ज्ञात रहे कि 14 दिसंबर मंगलवार को मिरकां गांव के विनोद को गांव के ही कुछ लोगों ने पानी की मोटर चोरी के शक में बुरी तरह से पीटा था. ज्यादा चोट के कारण विनोद की अस्पताल में मौत हो गई थी. मृतक के शव का पोस्टमार्टम हो जाने के बाद भी परिजनों ने शव नहीं लिया है और अस्पताल में ही 12 दिनों से धरना दे रहे हैं.

Tags: Chandrashekhar Ravan, Haryana news, Haryana police

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर