हिसार में किसानों का प्रदर्शन: आंदोलन में शामिल एक किसान की हार्ट अटैक से मौत

गाड़ियों में हिसार पहुंचते किसान

गाड़ियों में हिसार पहुंचते किसान

Kisan Aandolan: आंदोलन में शामिल किसान रामचंद्र खरब की हार्ट अटैक (Heart Attack) से मौत (Death) हो गई है

  • Share this:

हिसार. हरियाणा के हिसार जिले में किसानों (Farmers) का प्रदर्शन जारी है. भारी संख्या में किसान सुबह क्रांतिमान पार्क में पहुंच रहे हैं. वहीं क्रांतिमान पार्क पहुंचे एक किसान रामचंद्र खरब की हार्ट अटैक से मौत (Death) हो गई है. मृतक हिसार जिले के उगलन गांव का रहने वाला था. वहीं जिला प्रशासन ने आंदोलनरत किसानों को फिर से बातचीत का न्योता दिया है.

जिला प्रशासन की तरफ से प्रेस को जारी किए गए बयान में कहा गया कि 21 मई को हुई वार्ता में किसानों ने हिसार मंडलायुक्त के लिए अपनी मांगें रखी थीं. इन मांगों का समाधान करने की दिशा किसान संगठन के प्रतिनिधियों को मंडलायुक्त ने बातचीत का न्योता दिया है. महामारी के इस कठिन दौर में यह जरूरी है कि किसान आंदोलन का हल शांतिपूर्ण ढंग से बातचीत के माध्यम से निकाला जाए. यह व्यापक हित में है.

लघु सचिवालय के बाहर थ्री लेयर सिक्योरिटी

वहीं प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस भी चौकस है. पुलिस ने क्रांतिमान चौक से लेकर लघु सचिवालय तक तीन नाके लगाए हैं. लघु सचिवालय के बाहर थ्री लेयर सिक्योरिटी लगाई गई है. प्रशासन ने 26 ड्यूटी मजिस्ट्रेट लगाए हैं. 16 ड्यूटी मजिस्ट्रेट रिजर्व रखे गए हैं. सभी को अलग अलग प्वाइंट पर तैनात किया गया है. रेपिड एक्शन फोर्स, हरियाणा आर्म्ड पुलिस के अलावा 7 जिलों की पुलिस तैनात की गई है. जिसमें करीब 4 हजार से अधिक पुलिस कर्मी हैं.
ये है मामला

हिसार में पिछले सप्ताह रविवार को पुलिस और किसानों के बीच हिंसक झड़प के मामले में पुलिस की ओर से 300 से ज्यादा किसानों पर मामला दर्ज किया गया था. इसके बाद किसानों ने विरोध प्रदर्शन करने का फैसला किया है. पुलिस ने किसानों के एक समूह पर उस समय आंसू गैस के गोले दागे थे और उन पर बल प्रयोग किया था, जब वे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के एक कार्यक्रम स्थल पर जाने की कोशिश कर रहे थे. सीएम वहां कोविड-19 अस्पताल का उद्घाटन करने गए थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज