हरियाणा का बेटा नवनीत बना भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट, माता-पिता को दिया सफलता का श्रेय

पिता बोले- बेटे ने सीना गर्व से चौड़ा कर दिया.

Hisar News: नवनीत मदान इससे पहले एनडीए का पेपर पास कर चुके हैं. लेकिन किसी वजह से उनका चयन नहीं हो पाया था.

  • Share this:
हिसार. शहर में राजेंद्रा एन्क्लवे में रहने वाले किशोर मदान का बेटा नवनीत मदान (Navneet Madaan) का चयन भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट (Lieutenant in Indian Army) के पद पर हुआ है. नवनीत के पिता सीमेंट व्यापारी है. जिंदल चौक के पास उनकी दुकान है. नवनीत की माता सुमन मदान गृहणि हैं. नवनीत ने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता को दिया है. नवनीत का परिवार मूलत नारनौंद के पेटवाड़ का रहने वाला है. पासिंग आउट परेड़ देहरादून में नवनीत का चयन हुआ है.

नवनीत ने शुरुआत की पढ़ाई सेंट कबीर स्कूल से की. इसके बाद आठवीं से दसवीं की पढ़ाई सिद्धार्थ इंटरनेशनल स्कूल से की. 11वीं और 12वीं की पढ़ाई के लिए नवनीत देहरादून चला गया. इसके बाद कॉमर्स से बीबीए की पढ़ाई पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला की. नवनीत इससे पहले एनडीए का पेपर क्लीयर कर चुके हैं मगर किसी कारण से उनका चयन नहीं हो पाया.

नवनीत ने ऐसे की तैयारी

इसके बाद उन्होंने ग्रेजुएशन करने के बाद सीडीएस करने की ठानी. नवनीत ने बताया कि उन्होंने पढ़ाई के दौरान पूरा शेड्यूल तय हुआ था. पूरे सप्ताह में कितनी पढ़ाई करनी है, उसी हिसाब से वह दिन में पढ़ते थे. स्कूलिंग से ही उनको खेलने का शौक था वह बॉलीवॉल खेला करते थे.

पिता बोले- अपने बेटे पर गर्व है 

नवनीत के पिता किशोर मदान का कहना है कि उनको अपने बेटे पर गर्व है और उसने सीना गर्व से चौड़ा कर दिया. नवनीत के पिता सुंदरलाल मदान का कहना है कि बचपन में जब भी वह नवनीत को खिलाते थे वह सपना देखते थे कि नवनीत सेना में ऑफिसर बने. आज जब उसका लेफ्टिनेंट पद पर चयन हुआ है तो मुझे बहुत खुशी है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.