कार में शव जलाने का मामला: भरी पंचायत में आरोपी के पिता बोले- चाहे इसने फांसी तोड़ दो मैं वकील भी कौणी करूं

भरी पंचायत में राममेहर के पिता ने कही ये बात
भरी पंचायत में राममेहर के पिता ने कही ये बात

Hisar Murder Mystery: गांव में हर किसी की जुबान पर राम मेहर की धिनौनी करतूत की चर्चा है. हत्‍या कर शव को कार में रखकर जलाने के आरोपी राम मेहर के पिता ने पंचायत के फैसले के साथ होने की बात कही है.

  • Share this:
हिसार. पिता ने जिस बेटे को लाड़-प्यार से पाला हो और जब वही इंसान उसी जिगर के टुकड़े को भरी पंचायत में फांसी पर लटका देने की बात कहे तो बेटे की हरकत किस कदर घिनौनी रही होगी, इसका सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है. राममेहर की करतूत को लेकर डाटा गांव में हुई पंचायत में हाथ जोड़कर राम मेहर (Ram Mehar) के पिता टेकचंद ने कहा कि उनके बेटे को फांसी मिले या फिर उम्रकैद, उनका परिवार उसे बचाने के लिए कोई वकील (Advocate) तक नहीं करेगा. उन्‍होंने कहा कि वह रमलू के परिवार के सहयोग के लिए पंचायत के साथ हैं.

दरअसल, राम मेहर ने गांव के ही रमलू की हत्या कर उसके शव को कार के अंदर जला देने का आरोप लगा है. इस मामले में डाटा गांव में पंचायत बुलाई गई थी, जिसमें पूरे गांव से सभी समुदायों से ताल्लुक रखने वाले लोग शामिल हुए. सोमवार सुबह आयोजित हुई पंचायत में राममेहर के परिवार के सदस्य नहीं पहुंच सके थे, जिस कारण शाम 4 बजे दोबारा पंचायत बुलाई गई.

पंचायत में रोघी खाप के प्रधान सुमेर सिंह मौजूद थे. उनकी अध्यक्षता में ही पंचायत का आयोजन किया गया. उन्होंने बताया कि रमलू के परिवार की स्थिति को देखते हुए उसकी पत्नी को सरकारी नौकरी व सरकार से आर्थिक सहयोग की मांग करते हैं. उन्होंने कहा कि 40 सदस्यों की कमेटी बनाई गई है, जो रमलू के परिवार की ग्रामीणों के सहयोग से आर्थिक सहायता करेगी.



सुमेर सिंह ने कहा कि रमलू के सभी 11 बच्चों की बैंक एफडी करवाई जाएगी. बैंक एफडी इस प्रकार से करवाई जाएगी कि एक निश्चित अंतराल में उसके बच्चों को पैसे मिलते रहें. इसके अलावा जो भी संभव सहायता होगी पूरा गांव मिलकर करेगा.
'मंगलसूत्र और चुड़ियां की शर्म तो कर लेता रै'
गांव में हर किसी की जुबान पर राममेहर की धिनौनी करतूत की चर्चा है. चौराहों पर खड़ी युवाओं की टोली हो या चौपालों पर हुक्का गुड़गुड़ाते बुजुर्ग, सभी की आवाज राममेहर के खिलाफ और रमलू के परिवार के साथ है. रोघी खाप के चबुतरे के बाहर खड़े युवक बातचीत कर रहे थे कि राममेहर ने तो आपणे देश की मंगलसूत्र व चुड़ियां की शर्म तो राख लेंदा, उस नै तो आपणे बालका कानी भी कौणी देखा. इसै आदमी ने तो फांसी तोड़ देनी चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज