Honeytrap: दादा को लूटने के लिए पोता ने बुना जाल, रेप केस में फंसाने की धमकी देकर वसूले 5 लाख

हिसार में हनीट्रैप का मामला आया सामने. (Photo-pixabay)
हिसार में हनीट्रैप का मामला आया सामने. (Photo-pixabay)

Honey Trap: आरोपी ने बताया कि डिप्टी कंट्रोलर पारिवारिक रिश्ते में दादा लगते हैं. आरोपी ने 10 लाख रुपये की मांग की थी और 5 लाख की वसूली भी कर ली थी.

  • Share this:
हिसार. सिटी पुलिस (City Police) ने सेक्टर-16, 17 में रहने वाले नापतोल विभाग से रिटायर्ड डिप्टी कंट्रोलर को रेप के झूठे केस में फंसाने का भय दिखाकर 5 लाख रुपए वसूलने का मामला सामने आया है. इसमें एक युवक और उसके नकली माता-पिता को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इस मामले के मुख्य सरगाना अमित को रिमांड (Police Remand) के के लिए अदालत में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है. इस मामले में 10 लाख रुपये की मांग की जा चुकी थी, जिसमें आरोपी 5 लाख रुपये ले चुके थे. इस मामले में एक लड़की की गिरफ्तारी बाकी है. इस घटना का मुख्‍य आरोपी पीड़ि‍त का रिश्‍ते में पोता लगता है.

नापतोल विभाग के डिप्टी कंट्रोलर जयवीर ने पुलिस को दी शिकायत में कहा कि राशन कार्ड बनवाने के बहाने उन्‍हें हनी ट्रैप में फंसाया गया था. उन्‍होंने आरोप लगाया कि युवती ने उन्‍हें अपने मां-बाप से मिलवाने के लिए ऋषि नगर स्थित आवास पर लेकर गई. यहां पर उन्‍हें नशीला पदार्थ पानी में मिलाकर पिलाया गया, जिससे वह बेहोश हो गए थे. मौके पर कुछ समय बाद उन्‍हें होश आया तो उनके शरीर पर कपड़े नहीं थे. उन्‍होंने आरोप लगाया कि आरोपियों ने उनसे कहा कि उन्‍होंने उनकी बेटी के साथ रेप किया है. आरोपियों ने दावा किया कि उनके पास वीडियो और फोटो है. रिटायर्ड अधिकारी ने कहा कि आरोपियों ने उनसे 10 लाख रुपयों की मांग की थी. न देने पर रेप के झूठे केस में फंसाने की धमकी भी दी थी.

आरोपी निकला रिश्तेदार
हिसार सिटी थाना इचार्ज रिछपाल ने बताया कि इस मामले में बालसमंद निवासी अमित को गिरफ्तार किया और पूछताछ के बाद पता चला इसका सरगना अमित ही है. इस मामले को अंजाम देने के लिए बनाााए गए नकली मां-बाप को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. अमित ने पूछताछ में पांच लाख रुपये की वसूली की बात कबूली है. पकड़े गए आरोपी ने बताया कि डिप्टी कंट्रोलर पारिवारिक रिश्ते में दादा लगता है.
एक युवती की गिरफ्तारी बाकी


इसमें उकलाना के कुलदीप सिंह और एक महिला का सहयोग लिया था. उन्होंने बताया कि पुलिस रिमांड के बाद उन्हें जेल भेज दिया है. इस घटना में प्रयोग किया मोबाइल बरामद कर लिया है और युवती की गिरफ्तारी बाकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज