Kisan Aandolan: शहीद भगत सिंह की भांजी बोलीं- अब लोग सरकार के झूठ को समझने लगे

शहीद भगत सिंह की भांजी गुरजीत कौर ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा

शहीद भगत सिंह की भांजी गुरजीत कौर ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा

Kisan Aandolan: पदयात्रा का अगला पड़ाव सोरखी गांव में होगा. इसमें शामिल लोग 23 मार्च को टिकरी बॉर्डर पहुंचेंगे.

  • Share this:

हिसार. किसान आन्दोलन (Kisan Aandolan) के समर्थन में टिकरी बॉर्डर के लिए हांसी की ऐतिहासिक लाल सड़क से किसानों की पदयात्रा को शहीद भगत सिंह की भांजी गुरजीत कौर ने झंडी दिखाकर रवाना किया. हांसी से सैंकड़ों किसान, मजदूर, छात्र और अन्य लोग पदयात्रा को समर्थन देते हुए उसमें शामिल हुए. यह यात्रा 23 मार्च को शहीद-ए-आजम भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव के शहीदी दिवस पर टिकरी बॉर्डर पहुंचेंगी. पदयात्रा का अगला पड़ाव सोरखी गांव में होगा जहां से आसपास के किसान इसमें शामिल होंगे.

कार्यक्रम में पहुंचीं गुरजीत कौर ने कहा कि सरकार द्वारा विरोधी आवाजों को देशद्रोही कहने से शहीदों के परिवारों को दर्द होता है. उन्होंने कहा कि विरोधी आवाजों को दबाने का प्रचलन और भ्रष्टाचार का बीज तो कांग्रेस ने ही देश में बोया था, लेकिन वर्तमान सरकार ने लोकतंत्र में विरोधी आवाज को दबाने के लिए सारी हदों को पार कर दिया है.

सरकार ने जनता के बारे में नहीं सोचा 

देश के वर्तमान हालात पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि आजादी के लिए लड़ने वाले लोग देश आजाद होने के बाद बैठ गए, क्योंकि उन्होंन सोचा कि उनका काम पूरा हो गया है और जो लोग देश को चलाने के लिए सत्ता में आए वह ईमानदार नहीं निकले और गलत हाथों में देश आने के कारण दिन-ब-दिन भ्रष्टाचार बढ़ता गया. उन्होंने कहा किसी भी सरकार ने जनता के बारे में नहीं सोचा केवल सत्ता पाने की जुगत में लगी रहीं.
26 मार्च को देशव्यापी बंद का बड़ा असर देखने को मिलेगा

किसान आन्दोलन के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि 23 मार्च के बाद से किसान आन्दोलन तेज होगा और वह 26 मार्च को देशव्यापी बंद का बड़ा असर देखने को मिलेगा. उन्होंने कहा कि अब लोग वर्तमान सरकार के झूठ को समझने लगे हैं और धीरे-धीरे भाजपा से लोगों का विश्वास उठने लगा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज