अपना शहर चुनें

States

Farmers Protest: किसानों के समर्थन में ना आने पर JJP की उलटी गिनती शुरूः राघो खाप

राघो खाप ने की बैठक
राघो खाप ने की बैठक

Farmers Protest: कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन का समर्थन न करने को लेकर जेजेपी (JJP) की किसान नेताओं ने की आलोचना. पार्टी के ऊपर प्राइवेट कंपनी की तरह काम करने का लगाया आरोप.

  • Share this:
हिसार. जिले के हांसी हलके में किसानों (Farmers Protest) के समर्थन में राघो खाप (Ragho Khap) के प्रतिनिधियों ने जाट धर्मशाला में मीटिंग का आयोजन किया. खाप नेताओं ने किसान आन्दोलन के समर्थन में हर संभव सहयोग करने की बात कही. खाप प्रमुख सुमेर सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार के ये आरोप (Allegation) निरधार है कि आन्दोलन में केवल पंजाब के किसान हैं शामिल हैं. उन्होंने कहा कि हरियाणा के लाखों किसान भी दिल्ली में मांगों को लेकर आन्दोलन का हिस्सा हैं.

भाजपा-जजपा (BJP-JJP Allaince) गठबंधन पर बोलते हुए खाप नेताओं ने कहा कि जिस दिन जेजेपी ने अपनी मूल विचाराधारा को छोड़ भाजपा का दामन थाना था उसी दिन से पार्टी की उल्टे गियर लगने शुरू हो गए थे. उन्होंने जेजेपी को प्राइवेट कंपनी की तरह काम करने वाले पार्टी बताया और कहा कि सरकार के उलटी गिनती शुरू हो चुकी है.

जनसंपर्क अभियान चलाया जाएगा
सज्जन सिंह कालीरमण ने कृषि कानूनों का दिल्ली में विरोध कर रहे किसानों के समर्थन में रसद पहुंचाने का ऐलान भी किया. उन्होंने कहा कि गांवों में जनसंपर्क अभियान चलाया जाएगा और अधिक से अधिक किसानों को दिल्ली जाने के लिए प्रेरित किया जाएगा जिससे सरकार पर दबाव बढ़े और तीनों काले कानूनों को वापिस लेने पर मजबूर हो जाए.
कई खाप किसान आन्दोलन के समर्थन में


खाप नेताओं ने कहा कि प्रदेश की कई खाप किसान आन्दोलन के समर्थन में है और सरकार के खिलाफ एकजुट हैं. इस मौके पर सुभाष कादयान, ज्ञान सिंह, बलजीत सिंह, सज्जन सिंह कालीरमण, टेकराम चानौत, बलजीत सिसाय उदयवीर पहलवान डाटा सहित काफी संख्या में खाप सदस्य मौजूद थे. आपको बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा इसी साल पारित नए कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब, हरियाणा समेत देश के कई राज्यों के किसान पिछले एक हफ्ते से ज्यादा समय से आंदोलन कर रहे हैं. विभिन्न राज्यों के किसान इसके लिए दिल्ली पहुंचे हुए हैं, जहां केंद्र सरकार के साथ कई दौर की वार्ता के बावजूद अभी तक उनकी समस्या का समाधान नहीं हो सका है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज