• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • चौटाला का ऐलान- चुनावों के लिये जेल तोड़ कर आ जाऊंगा बाहर

चौटाला का ऐलान- चुनावों के लिये जेल तोड़ कर आ जाऊंगा बाहर

ओमप्रकाश चौटाला.

ओमप्रकाश चौटाला.

आगामी विधानसभा चुनावों में पार्टी की मदद के लिए अगर मुझे जेल तोड़कर भी बाहर आना पड़ा तो मैं जरूर आऊंगा. यह कहना है हरियाणा के पूर्व मुख्‍यमंत्री और इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ओमप्रकाश चौटाला का.

  • Share this:
जेबीटी टीचर भर्ती घोटाले में दिल्ली की तिहाड़ जेल में सजा काट रहे हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और इंडियन नेशनल लोकदल के सीनियर नेता ओमप्रकाश चौटाला जेल में अपने अच्छे कंडक्ट की वजह से 14 दिन के फरलो पर जेल से बाहर आए हुए हैं. लेकिन इन 14 दिनों को वो जमकर अपने राजनीतिक मंसूबों को पूरा करने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं.

एक के बाद एक लगातार कार्यकर्ताओं से मुलाकात और जनसभाएं कर रहे ओम प्रकाश चौटाला ने रविवार को एक विवादास्पद बयान दे दिया. ओम प्रकाश चौटाला ने हरियाणा के फतेहाबाद में अपने कार्यकर्ताओं से बातचीत करते हुए मंच से ऐलान किया कि वो हरियाणा के अगले विधानसभा चुनाव के दौरान किसी भी तरह से कार्यकर्ताओं के बीच मौजूद रहेंगे और इसके लिए भले ही उन्हें जेल को तोड़कर ही क्यूं ना आना पड़े.

ओमप्रकाश चौटाला के जेल तोड़कर बाहर आने के बयान पर तीखी राजनीतिक प्रतिक्रियाएं भी सामने आईं. हरियाणा बीजेपी के सीनियर विधायक ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि अपने इसी आचरण की वजह से ही ओम प्रकाश चौटाला जेल में बंद हैं और उनका ये बयान उनकी मानसिकता को दिखाता है. वहीं हरियाणा कांग्रेस के सीनियर लीडर करण दलाल ने कहा कि ओम प्रकाश चौटाला अपने इन्हीं कृत्यों की वजह से ही फिलहाल जेल में बंद है और उनका ये बयान ये बताने के लिए काफी है कि वो कानून का कितना सम्मान करते हैं और अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को भी वो किस तरह से कानून को ठेंगा दिखाने की नसीहत दे रहे हैं.

वहीं अपनी पार्टी के वरिष्ठ नेता की तरफ से दिए गए विवादास्पद बयान पर इंडियन नेशनल लोकदल के विधायक और नेता सफाई देते नजर आए. इनेलो के विधायक प्रोफेसर राजेंद्र सिंह ने कहा कि ओमप्रकाश चौटाला के बयान को निगेटिव तरीके से देखा जा रहा है वो सिर्फ कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के लिए ये बात कह रहे थे कि वो अगले विधानसभा चुनाव में उनके बीच मौजूद रहेंगे और इसी वजह से उन्होंने सिर्फ सांकेतिक तौर पर जेल तोड़कर बाहर आने की बात कही थी और ओम प्रकाश चौटाला कानून का पूरा सम्मान करते हैं और सजा मिलने के बाद से ही वो जेल में बंद है ऐसे में जेल तोड़कर बाहर आने का कोई सवाल नहीं उठता लेकिन कुछ लोग उनके बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश कर रहे हैं.

चौटाला परिवार का विवादों से चोली दामन का साथ है. इससे पहले जब ओम प्रकाश चौटाला हरियाणा के मुख्यमंत्री थे तब भी वो कई बार विवादों में फंसते रहे हैं और अब जेल से 14 दिन की छुट्टी पर बाहर आए ओमप्रकाश चौटाला ने एक बार फिर जेल तोड़ने जैसा विवादित बयान देकर बैठे-बिठाए मुसीबत मोल ले ली है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज