• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • हरियाणा: गृह मंत्रालय में नौकरी लगवाने के नाम पर रिश्तेदारों ने 8 लाख ठगे, 3 के खिलाफ मामला दर्ज

हरियाणा: गृह मंत्रालय में नौकरी लगवाने के नाम पर रिश्तेदारों ने 8 लाख ठगे, 3 के खिलाफ मामला दर्ज

अब देखना होगा कि जो अपने पक्ष में सोमदत्त शर्मा ने कही हैं उनमें कितनी सच्चाई है.

अब देखना होगा कि जो अपने पक्ष में सोमदत्त शर्मा ने कही हैं उनमें कितनी सच्चाई है.

शिकायतकर्ता ने बताया कि 8 लाख रुपये लेने के बाद भी नौकरी (Job) लगवाने से आरोपी ने इनकार कर दिया. गृह मंत्रालय में नौकरी लगाने के नाम पर ठगी की गई.

  • Share this:
हिसार. गृह मंत्रालय में क्लर्क लगवाने के नाम पर हांसी में पिता-पुत्र से रिश्तेदारों ने ही एक व्यक्ति के साथ मिलकर लाखों रुपये की ठगी कर ली. युवक को नौकरी लगवाने के बहाने 1 महीने तक अपने पास रखा और बरगलाते हुए इधर-उधर घूमाते रहे. कुछ दिनों बाद युवक को घर वापस भेज दिया और फिर पैसे वापस देने से भी मुकर गए. पूरी रकम का लेनदेन हांसी के प्रेम नगर में स्थित एक घर में किया गया था.

हांसी पुलिस ने अनुप के पिता बलवान की शिकायत पर बड़सी गांव निवासी दो रिश्तेदारों और करनाल के इंद्री निवासी एक व्यक्ति के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है. हिसार के बालसमंद निवासी बलवान ने पुुलिस को दी शिकायत में कहा कि उसका बेटा अनूप 12वीं पास करने के बाद खाली रहता था. एक दिन रिश्तेदार बड़सी निवासी शुभम व सुमन ने कहा कि उनकी करनाल के इंद्री में एक व्यक्ति से जान पहचान हैं जो अनुप को गृह मंत्रालय में नौकरी लगवा सकता है.

इसके बाद हांसी में उसके साले अमीर चंद के घर रिश्तेदारों के साथ नवनीत से मुलाकात हुई और उन्होंने 11 लाख रुपये में उसके बेटे को नौकरी लगवाने की बात कही. फरवरी 2019 हांसी में ही साले के घर पर नवनीत को पहले 5.50 लाख रुपये के दिए. इसके बदले में नवनीत ने विश्वास जीतने के लिए उसे दो चेक भी दिए थे.

नौकरी लगवाने के किया इनकार
कुछ दिनों बाद अनुप को नौकरी लगवाने के लिए नवनीत अपने साथ ले गया और एक महीने तक घुमाता रहा और इस दौरान 2.50 लाख रुपये और ले लिए. शिकायतकर्ता ने बताया कि 8 लाख रुपये लेने के बाद भी नौकरी लगवाने से नवनीत से इनकार कर दिया व कुछ दिनों बाद बेटे को भी वापस भेज दिया. पुलिस ने शुभम, सुमन व नवनीत के खिलाफ धोखाधड़ी व अन्य धाराओं में मामाल दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

चेक हो गए बाउंस
बलवान ने बताया कि सारी जमा पूंजी बेटे को नौकरी लगवाने के नाम पर गंवा दी है. उन्होंने आरोप लगाया की नवनीत ने जो उन्हें 5.30 लाख रुपये के चेक दिए थे वो भी बाउंस हो गए हैं. रिश्तेदारों ने भी नवनीत से पैसे दिलवाने से हाथ खड़े कर दिए. आखिर सारे रास्ते बंद होने पर पुलिस को शिकायत दी थी. पुलिस हमें न्याय दिलवाए.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन