हरियाणा में मौसम: इंद्र देव हुए मेहरबान, लगाई सावन की झड़ी, किसानों के चेहरे खिले
Hisar News in Hindi

हरियाणा में मौसम: इंद्र देव हुए मेहरबान, लगाई सावन की झड़ी, किसानों के चेहरे खिले
बारिश से कहीं राहत तो कहीं आफत

बारिश के कारण लोगों को गर्मी और उमस से राहत मिली. वहीं दूसरी तरफ फसलों के लिए भी बरसात अच्छी रही, जिससे किसानों के चेहरे खिले हैं.

  • Share this:
हिसार. इंद्रदेव एक बार फिर से हरियाणा (Haryana) के लोगों के लिए मेहरबान हुए और सावन की झड़ी लगा दी. मंगलवार दोपहर तक रूक-रूककर बरसात (Rain) होती रही. जिससे दिनभर मौसम भी खुशनुमा बना रहा. बारिश ने लोगों को राहत देने का काम किया. बारिश के कारण लोगों को गर्मी और उमस से राहत मिली. वहीं दूसरी तरफ फसलों के लिए भी बरसात अच्छी रही, जिससे किसानों के चेहरे खिले हैं.

वहीं फतेहाबाद जिले के जाखल की बात करें तो यहां सब्जी मंडी का नजारा कुछ इस तरह का था कि पानी में ही खड़े होकर लोग सब्जियों की फड़ लगाकर सब्जियां बेच रहे थे और पानी में ही सब्जी की मंडी का कार्य पूरा हुआ. यहां आने वाले व्यापारी रवि ने बताया कि सब्जी मंडी के लिए हर विधायक ने यहां पर पानी निकासी के प्रोजेक्ट बनाए लेकिन कोई भी प्रोजेक्ट सफल नहीं हुआ और सब्जी मंडी से पानी निकासी का कोई प्रबंध नहीं है. लिहाजा मंडी में बरसात का पानी लंबे समय तक खड़ा रहता है.

सड़कों में भरा पानी



वहीं रतिया क्षेत्र की बात करें तो यहां सड़कों, गलियों और बाजारों का नजारा पानी के दरिया के रूप में दिखा. बाजारों की सड़कें फतेहाबाद से रतिया को जाने वाली मुख्य सड़क और गलियां पानी से लबालब भरी दिखी. वहीं खेती के नजरिए से भी बरसात अब कुछ उन किसानों के लिए परेशानी बन चुकी है जो सरकार की 'मेरा पानी मेरी विरासत योजना' के तहत धान की फसल की जगह वैकल्पिक फसल की पैदावार करने चले थे.
फतेहाबाद में कई किसानों की फसल हुई खराब

गांव ढाणी डूल्ट में एक किसान ने अपने खेत में कपास की खड़ी फसल पर ट्रैक्टर चला दिया क्योंकि भारी बरसात के कारण फसल खराब हो गई और अब उसके सामने धान रोपाई के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा. खेत मालिक किसान प्रवीण कुमार ने बताया कि पानी के संकट से उबरने के लिए सरकार की योजना का पालन करते हुए उसने कपास की फसल की बिजाई की थी लेकिन लगातार बरसात से खेत पानी से लबालब भर गए और पूरी फसल खराब हो गई. आखिरकार अब उन्हें धान की फसल की रोपाई करनी पड़ी है. इसी तरह फतेहाबाद के विभिन्न निचले इलाकों में लगातार बरसात से काफी जलभराव हो गया है और निचले इलाके पानी में डूबे हुए नजर आये.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading