हरियाणा में सीएम फ्लाइंग स्क्वायड की तर्ज पर बनेगा होम मिनिस्टर स्क्वायड, अपराध पर लगेगी लगाम

अनिल विज. (फाइल फोटो)
अनिल विज. (फाइल फोटो)

हरियाणा (Haryana) के गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने प्रदेश में अपराध (Crime) और माफियाओं पर लगाम लगाने के लिए सीएम फ्लाइंग की तर्ज पर होम मिनिस्टर स्क्वायड (Home Minister Squad) बनाने की घोषणा की है. यह दस्ता सीधे गृह मंत्री के आदेश पर काम करेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 27, 2020, 12:40 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा (Haryana) के गृह मंत्री अनिल विज (Anil vij) ने बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने हरियाणा में होम मिनिस्टर स्क्वॉड (Home Minister Squad) बनाने की घोषणा की है. यह स्क्वॉड सीएम फ्लाइंग की तर्ज पर काम करेगा. विज ने एडीजीपी लॉ एंड आर्डर नवदीप विर्क को स्क्वॉड के गठन के लिए कहा है. दस्ते में एक पुलिस अधीक्षक स्तर का अधिकारी होगा, जिसे सीधे गृह मंत्री के आदेश के तहत काम करना होगा.

यह अधिकारी प्रदेश में कानून-व्यवस्था पर नजर रखेगा. सूबे में जिस भी तरह का माफिया सक्रिय हो रहा है. इसके माध्यम से उस पर नकेल कसी जाएगी. मसलन सट्टा माफिया, शराब माफिया, कब्जा माफिया, रेत माफिया और भी कई तरह के माफियाओं की गर्दन उठने से पहले ही यह कुचलने का काम करेगा.

अनिल विज ने हरियाणा के लिए जारी किया संशोधित होम आइसोलेशन प्रोटोकॉल



गृह मंत्री अनिल विज के मुताबिक प्रदेश में कानून-व्यवस्था को बनाए रखने के लिए इस दस्ते का गठन बहुत जरूरी हो गया था, जिसके लिए उन्होंने एडीजीपी लॉ एंड आर्डर को निर्देश दिया है. गृह मंत्री दस्ता सूचना मिलने पर छापा मारने के साथ ही एफआईआर दर्जकर अपराधियों को गिरफ्तार भी करेगा.
बता दें कि गृह मंत्री ने प्रदेश में थानों में तैनात सिक्योरिटी एजेंट को पहले बदलने का आदेश दिया है. सूचना के मामले में पुलिस सीआईडी के तंत्र पर निर्भर न रह कर अपने तंत्र पर निर्भर रहेगी. पुलिस के पास अपने और अन्य स्रोतों के माध्यम से सूचना आएगी. यह सूचना सीधे गृह मंत्री तक जाएगी. उसके बाद दस्ते को कार्रवाई करने को कहा जाएगा.

अनिल विज को गृह विभाग मिलने के बाद यह कयास लगाया जा रहा था कि एसपी स्तर का एक अधिकारी होम मिनिस्टर के ओएसडी के तौर पर लगाया जाएगा, लेकिन गृह विभाग में यह बात सिर्फ चर्चा बन कर ही रह गई. अब गृह मंत्री दस्ता बनने के बाद यह सीधे विज के आदेश मानने को बाध्य होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज