• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • हालात महाभारत जैसे, फैसला आपका, साथ दुर्योधन का देना है या पांडवों का: अजय चौटाला

हालात महाभारत जैसे, फैसला आपका, साथ दुर्योधन का देना है या पांडवों का: अजय चौटाला

अजय सिंह चौटाला

अजय सिंह चौटाला

अजय ने कहा कि ना मैंने आपको कभी जलील नहीं होने दिया है और ना कभी जलील होने दूंगा.

  • Share this:
पैरोल से आने के बाद दूसरे दिन इनेलो महासचिव अजय सिंह चौटाला ने मंगलवार को झज्जर स्थित पार्टी कार्यालय पहुंचे, जहां उनका कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया. अजय के सामने ही कार्यकर्ताओं ने भावी सीएम दुष्यंत चौटाला जिंदाबाद के नारे भी लगाए. कार्यकर्तांओं का जोश देखकर अजय सिंह चौटाला सीधे मंच पर चढ़ गए और माइक थाम लिया. सबसे पहले कार्यकर्ताओं का धन्यवाद किया और उनका हाल-चाल जाना. उसके बाद अजय सिंह चौटाला ने सीधे-सीधे अपने विरोधियों पर निशाना साधना शुरू कर दिया.

अजय चौटाला ने कहा कि आज हालात महाभारत के कौरवों और पांडवों जैसे बन गए है. अब फैसला आप लोगों के हाथ में है कि आप दुर्याधन का साथ देते हैं या पांडवों का. अजय सिंह चौटाला यहीं नहीं रुके उन्होंने बिना नाम लिए निशाना साधते हुए कहा कि आज भी मुझे अच्छे से याद है कि जो लोग आज हमारे खिलाफ आवाज उठा रहे हैं वो कार्यकर्ताओं के साथ मंच पर कैसा अभद्र व्यवहार करते थे. यहां तक कि कार्यकर्ताओं को गालियां तक दी जाती थी, लेकिन मैंने हमेशा आप लोगों का मान-सम्मान किया है और हमेशा करता रहूंगा.

यह भी पढ़ें- INLD में टूट के आसार! अजय चौटाला ने किया कई विधायकों के समर्थन का दावा

अजय ने कहा कि ना मैंने आपको कभी जलील नहीं होने दिया है और ना कभी जलील होने दूंगा. अजय सिंह चौटाला ने कहा कि ना हमें साम्राज्य चाहिए ना सत्ता चाहिए, हमें तो बस कार्यकर्ताओं का सम्मान चाहिए. अजय सिंह चौटाला ने कार्यकर्ताओं से कहा कि आपको कांटो से पलकों पर बैठाने का काम करूंगा. अजय चौटाला ने ये भी कहा कि ना तो हम अनाधिकार की चेष्टा करते और ना ही सहन करते, लेकिन आज परिस्थितियां अलग बनी हुई हैं, जिसका फैसला आप लोगों को करना है. अजय ने कहा कि अधिकार मांगने से नहीं मिलते हैं, अधिकार छीनने पड़ते हैं.

इनसो का संस्थापक मैं हूं, इसे कोई नहीं कर सकता भंग: अजय चौटाला

अजय सिंह चौटाला ने कहा कि तेजा खेड़ा जाकर पहले मां का आशीर्वाद लेंगे. चौटाला ने कार्यकर्ताओं को जींद में 17 नवम्बर को होने वाली कार्यकारिणी की बैठक का निमंत्रण देते हुए कहा कि फैसला 17 नवम्बर को आप सबके सामने ही किया जाएगा.

इस दौरान अपने पिता अजय सिंह चौटाला के साथ झज्जर पहुंचे अध्यक्ष दिगविजिय सिंह चौटाला ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि जनता की राय परमात्मा की राय होती है. हम जनता के अनुरूप ही फैसला लेंगे. 17 तक का इंतजार करो, सबकुछ आपके सामने होगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज