होम /न्यूज /हरियाणा /हरियाणा: किसान आंदोलन के साथ भीड़ जोड़ने का प्रयास, टिकरी बॉर्डर पर कबड्डी लीग का आयोजन

हरियाणा: किसान आंदोलन के साथ भीड़ जोड़ने का प्रयास, टिकरी बॉर्डर पर कबड्डी लीग का आयोजन

 किसान आंदोलन को 300 दिन पूरे हो गए हैं.

किसान आंदोलन को 300 दिन पूरे हो गए हैं.

Haryana News: किसान नेताओं का कहना है कि इस प्रतियोगिता का असली उद्देश्य आंदोलन में लोगों की सक्रिय भूमिका सुनिश्चित कर ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    झज्जर. केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीन कृषि कानूनों को रद्द करवाने को लेकर चल रहे किसान आंदोलन को आज 300 दिन पूरे हो गए हैं. इस अवसर पर टिकरी बॉर्डर (Tikri Border) पर किसान आंदोलन (Kisan Aandolan) में भीड़ बढ़ाने के लिए संयुक्त मोर्चा द्वारा कबड्डी लीग का आयोजन करवाया गया है. इस प्रतियोगिता में 16 टीमें भाग ले रही हैं. इन टीमों में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त खिलाड़ी खेल रहे हैं और किसान आंदोलन को अपना समर्थन दे रहे हैं. प्रतियोगिता बहादुरगढ़ के डॉक्टर भीमराव अंबेडकर स्टेडियम में चल रहीं. वहीं 3 दिन यह प्रतियोगिता सिंघु बॉर्डर पर चलेगी. 26 सितंबर को जब किसान आंदोलन को 10 महीने दिल्ली की सीमाओं पर पूरे होने जा रहे हैं, तब इसका समापन होगा.

    बहादुरगढ़ में बुधवार को कबड्डी लीग का पहला मैच नकोदर और तरनतारन की टीम के बीच खेला गया. इस मैच में नकोदर की टीम ने जीत हासिल की. संयुक्त मोर्चा से जुड़े किसान नेताओं ने बताया कि इस प्रतियोगिता में 16 टीमों ने भाग लिया है. जिसमें 44 मैच खेले जाएंगे. प्रतियोगिता में भाग लेने वाली हर एक टीम को एक लाख रुपये के पुरस्कार के अलावा पहले स्थान पर रहने वाली टीम को 5 लाख, दूसरा स्थान हासिल करने वाली टीम को 3 लाख, तीसरे स्थान पर रहने वाली टीम को 2 लाख और चौथा स्थान हासिल करने वाली टीम को डेढ़ लाख रुपए पुरस्कार दिया जाएगा.

    बेस्ट रेडर और कैचर मिलेगा बुलेट

    इस प्रतियोगिता के बेस्ट रेडर और कैचर को एक-एक बुलेट मोटरसाइकिल उपहार स्वरूप भेंट की जाएगी. किसान नेताओं का कहना है कि इस प्रतियोगिता का असली उद्देश्य आंदोलन में लोगों की सक्रिय भूमिका सुनिश्चित करना और दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे मोर्चा को मजबूत करना है. इस तरीके की प्रतियोगिताएं संयुक्त मोर्चा की तरफ से पहले भी आयोजित करवाई जा चुकी हैं.

    27 सितंबर को भारत बंद का ऐलान

    इतना ही नहीं 27 सितंबर को संयुक्त मोर्चा की ओर से भारत बंद का ऐलान किया गया है. इसे सफल बनाने के लिए भी किसान नेता और खाप पंचायतें जुटी हुई है इस बार भारत बंद का असर देशभर में देखने को मिल सकता है. लेकिन यह आंदोलन कब तक चलेगा यह है कोई नहीं जानता.

    Tags: Kabaddi, Kisan Aandolan, Kisan protest news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें