• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • बहादुरगढ़ अग्निकांड: मरने वालों की संख्या पहुंची चार, 34 घायल, 5 अब भी लापता

बहादुरगढ़ अग्निकांड: मरने वालों की संख्या पहुंची चार, 34 घायल, 5 अब भी लापता

बहादुरगढ़ में केमिकल फैक्ट्री का बॉयलर फटा

बहादुरगढ़ में केमिकल फैक्ट्री का बॉयलर फटा

बॉयलर फटने (Boiler Blast) से आसपास की चार फैक्ट्रियों (Factories) की इमारत पूरी तरह से धवस्त हो गई और चार फैक्ट्रियों में आग भी लग गई.

  • Share this:
झज्जर. बहादुरगढ़ के आधुनिक औद्योगिक क्षेत्र में बॉयलर फटने से मरने वालों की संख्या 4 पर पहुंच गई है. इस हादसे में करीब 34 लोग घायल (Injured) है. घायलों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल है. हादसा केमिकल की फैक्ट्री में बॉयलर फटने (Boiler Blast) से हुआ है. बॉयलर फटने से आसपास की चार फैक्ट्रियों की इमारत पूरी तरह से धवस्त हो गई और चार फैक्ट्रियों (Factories) में आग भी लग गई. फैक्ट्री के मलबे में अभी कई और श्रमिकों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है. हादसे में करोड़ों का नुकसान भी हुआ है. जिला उपायुक्त जितेन्द्र दहिया और डीआईजी अशोक कुमार भी मौके पर पहुंचे और एनडीआरएफ की टीम को भी राहत एवं बचाव के लिये बुलाया गया है.

लापता लोगों को ढूंढती NDRF की टीम


फैक्ट्री का मालिक भी लापता
चारों फैक्ट्रियों की बिल्डिंग गिर जाने से मलबे में करीब 5 लोगों के दबे होने की आशंका है. फैक्ट्री मालिक भी लापता है. राहत कार्यों के लिए डीसी जितेंद्र दहिया ने एनडीआरएफ की टीम को बुलाया. फैक्ट्रियों में छोटे-छोटे कमरों में रह रहे मजदूरों के परिवार भी इस हादसे में घायल हो गए. इनमें मासूम बच्चे भी शामिल हैं. धमाका इतना जोरदार था कि फैक्ट्रियों के शेड 500 मीटर दूर तक जाकर गिरे.

मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए देने की घोषणा
मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए की सहायता और घायलों को मुफ्त इलाज की घोषणा की है. बताया जा रहा है जब ये हादसा हुआ उस समय केमिकल फैक्ट्री में करीब 17 कर्मचारी काम कर रहे थे. फ्रीजर फैक्ट्री में 9 कर्मचारी थे. इन फैक्ट्रियों में मजदूरों के लिए छोटे-छोटे कमरे भी बनाए हुए थे. इनमें उनके परिवार रह रहे थे. धमाका इतना भयंकर था कि 500-700 मीटर के दायरे में फैक्ट्रियों व गलियों में खड़ी कारों के शीशे भी टूट गए. कई फैक्ट्रियों की बिल्डिंग में दरारें आ गईं.

NDRF की दो टीमें मौके पर
एनडीआरफ की दो टीम और एसडीआरएफ की एक टीम मौके पर पहुंची है. एनडीआरफ के 83 सदस्य और 40 एसडीआरएफ के सदस्य राहत कार्य में जुटे हुए हैं. पुलिस के 150 जवान भी मौके पर राहत बचाव में जुटे हुए हैं. एसडीएम तरुण पावरिया ने बताया कि घायलों के इलाज का खर्च प्रशासन उठाएगा. रोहतक मंडल के आयुक्त डी सुरेश भी घटनास्थल पहुंचे और राहत एवं बचाव कार्यों का जायजा लिया.

ये भी पढ़ें - खट्टर सरकार को बड़ा झटका, निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू ने वापस लिया समर्थन



ये भी पढ़ें - मांगों को लेकर सड़कों पर गरजे कर्मचारी, सरकार पर लगाया वायदा खिलाफी का आरोप

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज