Home /News /haryana /

ब्लोअर बनाने वाली कंपनी ने 11 कर्मचारी नौकरी से निकाले तो सभी गए हड़ताल पर

ब्लोअर बनाने वाली कंपनी ने 11 कर्मचारी नौकरी से निकाले तो सभी गए हड़ताल पर

बहादुरगढ़ की फैक्ट्री के बाहर धरने पर बैठे कर्मचारी

बहादुरगढ़ की फैक्ट्री के बाहर धरने पर बैठे कर्मचारी

ब्लोअर बनाने वाली एवरेस्ट कंपनी के कर्मचारियों ने बताया कि कुछ दिनों पहले उन्होंने अपनी कुछ मूलभूत सुविधाएं बढ़ाने संबंधी मांगों को लेकर एक डिमांड नोटिस कंपनी के मालिकों को दिया था जिसके बाद कंपनी मालिक ने बिना किसी नोटिस दिए कंपनी के 11 सीनियर कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया.

अधिक पढ़ें ...
बहादुरगढ़ के एचएसआईआईडीसी के सेक्टर-16 में ब्लोअर बनाने वाली कंपनी के 100 से ज्यादा कर्मचारी कंपनी से 11 साथी कर्मचारियों को निकाले जाने के बाद धरना दे रहे हैं. हड़ताली कर्मचारी कम्पनी से निकाले गए कर्मचारियों को वापस लेने की मांग को लेकर पिछले 11 दिन से धरने पर बैठे हैं लेकिन ना तो कंपनी मालिक और ना ही सरकारी अधिकारी इस और कोई ध्यान दे रहे हैं. कंपनी में काम बंद पड़ा है और कर्मचारी कंपनी से कुछ दूरी पर टेंट लगाकर बैठे हुए हैं. कर्मचारी कंपनी के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर रहे हैं. कर्मचारियों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर जल्द ही उनकी मांगे पूरी नहीं हुई, तो वे अनिश्चितकाल तक भूख हड़ताल पर चले जाएंगे.

झज्जर जनपद की ब्लोअर बनाने वाली एवरेस्ट कंपनी के कर्मचारियों ने बताया कि कुछ दिनों पहले उन्होंने अपनी कुछ मूलभूत सुविधाएं बढ़ाने संबंधी मांगों को लेकर एक डिमांड नोटिस कंपनी के मालिकों को दिया था जिसके बाद कंपनी मालिक ने बिना किसी नोटिस दिए कंपनी के 11 सीनियर कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया. उसके बाद गुस्साए कर्मचारी सड़क पर उतर आए और उन्होंने धरना देना शुरू कर दिया.

कर्मचारियों का कहा है कि तमाम मामलों के हल के लिए कई बार कंपनी के मालिक से बातचीत करने की कोशिश की लेकिन हर बार मालिक ने उनसे बात करने से मना कर दिया. कर्मचारियों ने लेबर ऑफिस में भी कंपनी मालिक की शिकायत की है. जब तक उनके साथी कर्मचारियों को कंपनी में वापस नहीं रखा जाएगा, तब तक वह ऐसे ही हड़ताल जारी रखेंगे.


यह भी पढ़ें - गुरुग्राम के निजी स्कूल में 3 साल की मासूम के साथ हैवानियत, आरोपी गिरफ्तार


यह भी पढ़ें- एनएचएम कर्मियों की भूख हड़ताल जारी, तीन की हालत बिगड़ी

Tags: Jhajjar news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर