अभय चौटाला की जनसभा में मोहित राठी ने थामा इनेलो का दामन

मोहित राठी के इनेलो जॉइन करने पर बेरी हलके के राजनीतिक समीकरणों में पूरी तरह से बदलाव आ गया है. बेरी हलके से इनेलो पार्टी हमेशा तीसरे या चौथे स्थान पर रहती है. मोहित राठी के आने से बेरी हलके में इनेलो को मजबूती मिलेगी.

Pradeep Dhankhar | News18 Haryana
Updated: September 16, 2018, 7:58 PM IST
अभय चौटाला की जनसभा में मोहित राठी ने थामा इनेलो का दामन
जनसभा को संबोधित करते हुए चौटाला. समीप हैं मोहित राठी.
Pradeep Dhankhar
Pradeep Dhankhar | News18 Haryana
Updated: September 16, 2018, 7:58 PM IST
हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के हनुमान कहे जाने वाले स्वर्गीय पहलवान चतर सिंह के बेटे मोहित राठी ने इनेलो का दामन थाम लिया है. रविवार को झज्‍जर जिले के बेरी की अनाज मंडी में हुई जनसभा में इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला ने मोहित राठी को पार्टी जॉइन करवाई. मोहित राठी के इनेलो जॉइन करने पर अभय सिंह चौटाला ने कांग्रेस पर तंज करते हुए कहा कि कांग्रेस की तरह इनेलो में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ धोखा नहीं किया जाता. स्वर्गीय पहलवान चतर सिंह के बेटे मोहित राठी को इनेलो पार्टी में पूरा मान-सम्मान दिया जाएगा.

आपको बता दें कि स्वर्गीय चतर सिंह पहलवान बेरी हलके के कद्दावर नेता थे. पिछले दिनों हृदय गति रुकने के कारण उनका अचानक देहांत हो गया था. पहलवान चतर सिंह ने वर्ष 2004 में बादली हलके से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था. वर्ष 2009 में वे पहली बार बेरी हलके से चुनावी मैदान में उतरे थे. वर्ष 2009 में उन्हें कांग्रेस ने टिकट नहीं दिया था, जिसके चलते उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ा था. वहीं वर्ष 2014 में भी बेरी विधानसभा हलके से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव मैदान में उतरे और 32000 वोट लेकर दूसरे स्थान पर रहे थे.

पिता की मौत के बाद मोहित राठी राजनीतिक मैदान में आए हैं. मोहित राठी के इनेलो जॉइन करने पर बेरी हलके के राजनीतिक समीकरणों में पूरी तरह से बदलाव आ गया है. बेरी हलके से इनेलो पार्टी हमेशा तीसरे या चौथे स्थान पर रहती है. मोहित राठी के आने से बेरी हलके में इनेलो को मजबूती मिलेगी.

इस अवसर पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए चौटाला ने विधानसभा में हुए जूता कांड पर कहा कि वे विधानसभा के अंदर हुई बातों को बाहर आकर भूल जाते हैं. अंदर हुई बातों का जिक्र बाहर आकर नहीं करते. यहां उन्होंने बीजेपी पर भी अपना निशाना साधा. चौटाला ने कहा कि मुगलों और अंग्रेजों के शासन से भी ज्यादा खराब प्रदेश में इस वक्त बीजेपी का शासन है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर