हॉलैंड क्‍लब की तरफ से खेलेंगे बहादुरगढ़ के सर्कल कबड्डी स्‍टार जस्‍सू पंडित

जस्सू पंडित 80 किलो भार वर्ग और ओपन वर्ग में यूरोप के चार देशों में कबड्डी में अपने जौहर दिखाएंगे. जस्सू के चयन से उनके कोच रामबीर और गांव वाले खुश हैं.

Pradeep Dhankhar | News18 Haryana
Updated: August 11, 2018, 2:16 PM IST
हॉलैंड क्‍लब की तरफ से खेलेंगे बहादुरगढ़ के सर्कल कबड्डी स्‍टार जस्‍सू पंडित
हॉलैंड रवानगी से पूर्व से मीडिया से चर्चा करते हुए जस्‍सू पंडित. समीप हैं कोच रामबीर.
Pradeep Dhankhar | News18 Haryana
Updated: August 11, 2018, 2:16 PM IST
हरियाणा में झज्‍जर जिले के बहादुरगढ़ के सर्कल कबड्डी स्टार जस्सू पंडित का चयन यूरोप के चार देशों में होने वाली कबड्डी चैम्पियनशिप के लिए हो गया है. वे शुक्रवार को हॉलैंड के लिए रवाना हो गए. वे हॉलैंड क्लब की तरफ से खेलेंगे. सिद्धि‍पुर लोवा गांव के रहने वाले जस्सू पंडित के चयन पर गांव में खुशी का माहौल है.

जस्सू पंडित 80 किलो भार वर्ग और ओपन वर्ग में यूरोप के चार देशों में कबड्डी में अपने जौहर दिखाएंगे. जस्सू के चयन से उनके कोच रामबीर और गांव वाले खुश हैं. कोच का कहना है कि वे जस्‍सू को सिखाने के लिए सुबह 5 बजे छुड़ानी गांव से सिद्धि‍पुर लोवा आते थे. गांव वालों का कहना है कि जस्सू बहुत मेहनती है और गांव आते ही गांव के बच्चों को भी कुश्‍ती और कबड्डी के गुर सिखाने में जुट जाता है. वहीं जस्सू पंडित का कहना है कि गांव वालों, परिवार और साथियों के सहयोग से उन्‍हें ये उपलब्धि हासिल हुई है.

जस्सू रेडर के तौर पर तीसरी बार यूरोप में खेलने गए हैं. इससे पहले वे जर्मनी में हुए यूरो कप में सेकंड बेस्ट रेडर रहे थे. सर्कल कबड्डी में आने से पहले जस्सू इंटरनेशनल लेवल के पहलवान रह चुके है. सुशील कुमार और योगेश्‍वर दत्त के साथ कुश्‍ती के दांव-पेंच सीखने वाले जस्सू ने 57 किलोग्राम भार वर्ग में खेलते हुए नेशनल लेवल पर गोल्ड और सिल्वर मेडल भी जीते हैं.

साल 2009 में ईरान में हुई एशियन कुश्‍ती चैम्पियनशिप में भी जस्‍सू पंडित ने जगह बनाई थी, लेकिन चोटिल होने के कारण उन्‍हें कुश्‍ती छोड़नी पड़ गई. वे एक दिन गांव वालों के साथ सर्कल कबड्डी खेलने गए थे, जहां हरियाणा के बेस्ट प्लेयरों की मौजूदगी में बेस्ट रेडर बने और उसी दिन से सर्कल कबड्डी शुरू हो गई. अब जस्सू पंडित अतंरराष्‍ट्रीय स्तर के कबड्डी स्‍टार बन चुके हैं.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर