लाइव टीवी

COVID-19: जींद के सर्जन ने बनाया कोरोना सैंपल बूथ, अब डॉक्टर बिना किसी डर के कर सकेंगे टेस्ट
Jind-Haryana News in Hindi

Vijender Kumar | News18 Haryana
Updated: April 7, 2020, 12:54 PM IST
COVID-19: जींद के सर्जन ने बनाया कोरोना सैंपल बूथ, अब डॉक्टर बिना किसी डर के कर सकेंगे टेस्ट
सर्जन द्वारा बनाया गया बूध

दक्षिण कोरीया (South Korea) में बने इसी तरह के उपकरण को कॉपी करते हुए एल्यूमीनियम की चादर और शीशे के साथ कैबिन नुमा फ्रेम को तैयार करवाया गया है.

  • Share this:
जींद. कोरोना वायरस (Coronavirus) से संभावित प्रभावित का सैंपल लेने में अब चिकित्सक अथवा मेडिकल स्टाफ (Mediacal Staff) अब किसी प्रकार का भय एंव हिचकचाहट महसूस नहीं करेगा. इसके लिए जींद के सामान्य अस्पताल के सर्जन डॉक्टर चंद्रमोहन शर्मा ने उत्कृष्ठ पहल करते हुए दक्षिण कोरिया के मॉडल के आधार पर प्रदेश का पहला कोरोना सैंपल बूथ मुख्यालय सामान्य अस्पताल में बनाया है और इसकी लागत भी स्वयं वहन करते हुए इसे आमजन के लिए दान में दे दिया है. अब इससे कोरोना वायरस पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी.

अस्पताल के कार्यवाहक पीएमओ डॉक्टर गोपाल गोयल ने बताया कि इससे पूर्व जब कोरोना के संभावित को जांच के लिए लाया जाता था तो उसका सैंपल लेने के लिए चिकित्सक अथवा मेडिकल स्टाफ अपने आपको असुरक्षित महसूस करता था. दक्षिण कोरीया में बने इसी तरह के उपकरण को कॉपी करते हुए एल्यूमीनियम की चादर और शीशे के साथ कैबिन नुमा फ्रेम को तैयार करवाया गया है. इसमें हाथ निकालकर सामने बैठे मरीज का टेस्ट किया जा सकता है. इसमें चिकित्सक और मरीज के बीच शीशा सुरक्षा कवच का काम करता है.

टेस्ट करता डॉक्टर




अब नहीं आएगी किसी प्रकार की कठिनाई



डॉक्टर गोपाल ने यह भी बताया कि अब सैंपल लेने में किसी प्रकार की कठिनाई नहीं आएगी. उन्होंने बताया कि इस प्रकार कि पहल हरियाणा में जींद के सामान्य अस्पताल में ही कि गई है और आशा कि इससे प्रेरित होकर अन्य स्थान पर भी इस पर अमल किया जाएगा.

सैंपल लेने वाले चिकित्सक रहते थे भयभीत

इस कार्य को अंजाम देने के लिए उत्कृष्ठ पहल करने वाले अस्पताल में सर्जन के तौर पर कार्यरत डॉक्टर चंद्रमोहन ने बताया कि इससे पूर्व चिकत्सक सैंपल लेने के मामले में भयभीत रहते थे. तब उनके मन में ख्याल आया कि इससे मुक्ति दिलानी होगी. तब उन्होंने जानकारी लेकर दक्षिण कोरिया की तर्ज पर यह मॉडल अपनी देख रेख में बनवाया. उन्होंने बताया कि उन्होंने साउथ कोरीया में इस प्रकार सैंपल लेते हुए देखा था. इससे चिकित्सक एंव संभावित मरीज के बीच दूरी बरकार रहेगी और सुरक्षीत तरीके से सेंपल लिया जा सकेगा.

ये भी पढ़ें-

COVID-19: नूंह जिले में कोरोना पॉजिटिव केसों की संख्या 8 से बढ़कर हुई 14

COVID-19: कोरोना वायरस संक्रमण से करनाल में पहली मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जींद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 7, 2020, 12:42 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading