Home /News /haryana /

हरियाणा: किसानों के बाद अब चूहों की वजह से नहीं लग रहा टोल, लोग खुश

हरियाणा: किसानों के बाद अब चूहों की वजह से नहीं लग रहा टोल, लोग खुश

चूहों की वजह से शुरू नहीं हुआ हरियाणा का एक टोल प्लाजा

चूहों की वजह से शुरू नहीं हुआ हरियाणा का एक टोल प्लाजा

Toll Tax in Haryana: चूहों ने खटकड़ टोल प्लाजा की वायरिंग काट दी थी जिसकी वजह से 5 दिन बीत जाने के बाद भी ये टोल शुरू नहीं हो पा रहा है. वहीं टोल मैनेजर ने बताया एक या दो दिन में इस टोल की फिर से शुरू होने की उम्मीद है. फिलहाल लोगों के टोल चुकाने से राहत मिली हुई है

अधिक पढ़ें ...

जींद. हरियाणा के जींद जिले में खटकड़ टोल प्लाजा (Toll Plaza) को किसानों (Farmers) के बाद अब चूहों (Rats) ने टोल फ्री करा दिया है. चूहों की वजह से हरियाणा का ये टोल शुरू नहीं हो पाया है. फिलहाल लोगों के टोल चुकाने से राहत मिली हुई है. जींद में स्थित ये टोल प्लाजा किसान आंदोलन खत्म होने के बाद भी शुरू नहीं हो पाया है. इस टोल को खाली कर आंदोलन में बैठे किसान 16 दिसंबर को वापस चले गए थे. पिछले एक साल के दौरान ये किसान टोल पर बैठे हुई थे.

बताया जा रहा है कि इस दौरान चूहों ने खटकड़ टोल प्लाजा की तारे कुतर दी. चूहों ने खटकड़ टोल प्लाजा की वायरिंग काट दी थी जिसकी वजह से 5 दिन बीत जाने के बाद भी ये टोल शुरू नहीं हो पा रहा है. वहीं टोल मैनेजर ने बताया एक या दो दिन में इस टोल की फिर से शुरू होने की उम्मीद है. फिलहाल वायरिंग का कार्य किया जा रहा है.

वहीं किसान आंदोलन के बाद अब टोल माफ करने को लेकर हिसार का रामायण टोल प्लाजा भी बंद हो गया है. टोल प्लाजा पर किसानों व ग्रामीणों ने डेरा डाल लिया है. उनकी मांग है कि पांच टोल फ्री गांवों के साथ देपल व भगाना को जोड़ा जाए. इसके अलावा किसानों का झंडा लगे वाहनों का भी टोल टैक्स माफ किया जाए.

टोल प्लाजा के आसपास के गांवों के किसान मंगलवार सुबह टोल पर एकत्रित हुए व अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए. किसानों ने कहा कि जब तक रामायण, ढंढेरी, मय्यड़, खरड़ व अलीपुर के साथ देपल व भगाना का टोल फ्री नहीं किया जाता, तब तक धरने पर रहेंगे. किसानों का झंडा लगे वाहनों को भी टोल प्लाजा से गुजरने दिया जाए.

Tags: Kisan Aandolan, Toll plaza, Toll Tax New Rate

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर