Analysis: क्या हरियाणा में भाजपा को दोबारा सत्ता में लाएगा धारा 370 का मुद्दा ?

विक्रांत यादव | News18 Haryana
Updated: August 16, 2019, 3:56 PM IST
Analysis: क्या हरियाणा में भाजपा को दोबारा सत्ता में लाएगा धारा 370 का मुद्दा ?
अमित शाह की जींद रैली

हरियाणा के जींद में "आस्था" रैली को संबोधित करने अमित शाह पहुंचे. यूं तो रैली का आयोजन किया था पूर्व केंद्रीय मंत्री और हरियाणा के कद्दावर नेता चौधरी बिरेंद्र सिंह ने और मकसद था बीजेपी के प्रति अपनी आस्था को प्रतिपादित करना, लेकिन रैली में 370 का मुद्दा ही छाया रहा.

  • Share this:
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने चार राज्यों के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के चुनावी प्रचार की टोन तय कर दी है. जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने के बाद अमित शाह हरियाणा के जींद में रैली के जरिए पहली बार सार्वजनिक रूप से अपनी बात कहने सामने आए. इस मुद्दे को जोर-शोर से उठाकर उन्होंने साफ कर दिया कि आगामी विधानसभा चुनावों में इसे पूरी ताकत के साथ उठाया जाएगा.

पांच अगस्त को संसद में जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने का प्रस्ताव गृह मंत्री के तौर पर अमित शाह ने पेश किया. दो दिन में संसद के दोनों सदनों से इसे पास भी करवा लिया. करीब दस दिन बाद आज हरियाणा के जींद में "आस्था" रैली को संबोधित करने अमित शाह पहुंचे. यूं तो रैली का आयोजन किया था पूर्व केंद्रीय मंत्री और हरियाणा के कद्दावर नेता चौधरी बिरेंद्र सिंह ने और मकसद था बीजेपी के प्रति अपनी आस्था को प्रतिपादित करना, लेकिन रैली में 370 का मुद्दा ही छाया रहा.

भाषण की शुरुआत और समापन धारा 370 से

अमित शाह ने अपने भाषण की शुरुआत भी 370 से की और समापन भी. हालांकि भाषण के बीच में केंद्र और हरियाणा सरकार के अन्य कार्यों का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि जो काम 70 साल में नहीं हुए वह 5 साल में मोदी जी ने किये. यह देश अखंड भारत बने इसके लिए धारा 370 को हटाया. कश्मीर भारत का मुकुट था लेकिन 370 कही न कही इसको पूरा नहीं होने देती था. भारत की एकता और अखंडता तक यह बहुत जरूरी था.

रैली को संबोधित करते शाह


वोटबैंक के लिए मां भारती के लिए काम करते हैं मोदी जी

अमित शाह ने रैली में कहा कि मैं आज पूरी देश को बताना चाहता हूं की जम्मू कश्मीर और लेह लदाख के विकास में जो बाधा थी वही नहीं रही. धारा 370 वही हटा सकता था जो वोट बैंक की राजनीती नहीं करता है. मोदी जी वोट बैंक के लिए नहीं माँ भारती के लिए काम करते है. अब 370 इतिहास का हिस्सा बन गया है.
Loading...

लोगों में दिखाई दिया जोश

अमित शाह के भाषण के दौरान लोगों में सबसे ज्यादा जोश उसी दौरान दिखाई दिया, जब जब वो धारा 370 के बारे में बात कर रहे थे. जाहिर है,लोगों का इस मुद्दे के प्रति जो भावनात्मक लगाव है वो साफ दिखाई दे रहा था. अमित शाह के भाषण से भी ये साफ था कि इस साल के अंत में और अगले साल की शुरुआत में होने वाले हरियाणा, महाराष्ट्र, झारखंड और दिल्ली में इस मुद्दे को जोर से उठाया जाएगा.

370 का मुद्दा लगाएगा नैया पार

इन चार राज्यों में से दिल्ली को छोड़कर बाकी तीनों राज्यों में बीजेपी की सरकार है. ऐसे में बीजेपी को उम्मीद है कि राज्य और केंद्र सरकार के काम और 370 के बाद उमड़ा जन समर्थन उसे वापस सत्ता दिलाएगा. साथ ही दिल्ली में भी इस मुद्दे के कारण उनकी नैया पार हो जाएगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जींद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 16, 2019, 3:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...