लाइव टीवी

पंचायत का अनोखा फैसला, राजनीतिक दल लाउड स्पीकर से नहीं कर सकेंगे चुनाव प्रचार

News18 Haryana
Updated: April 23, 2019, 12:41 PM IST
पंचायत का अनोखा फैसला, राजनीतिक दल लाउड स्पीकर से नहीं कर सकेंगे चुनाव प्रचार
प्रतिकात्मक तस्वीर

गांव के लोगों ने भी फैसले का स्वागत किया है. लोगों का मानना है कि लाउड स्पीकर और डीजे की वजह से कई बार गांव में तनाव का माहौल बनता था.

  • Share this:
जींद की शाहपुर पंचायत में अब लोकसभा चुनाव प्रचार का शोर सुनाई नहीं देगा. इसके साथ ही गांव में डीजे पर बजने वाले गाने हो या लाउड स्पीकर पर लगने वाले नेताओं के नारे सब पर गांव की पंचायत की तरफ से बैन लगा दिया गया है.

गांव की पंचायत के फैसले के मुताबिक कोई भी राजनेता अब गांव में लाउड स्पीकर से चुनाव प्रचार नहीं कर सकेगा. यदि किसी राजनीतिक दल ने नियम का उल्लंघन किया तो उसे 11 हजार रुपए का जुर्माना देना होगा. इतना ही नहीं राजनीतिक दल के प्रतिनिधि को गांव में चुनाव प्रचार करने से पूर्व पंचायत द्वारा निर्धारित की गई कमेटी को इसकी सूचना देकर मंजूरी भी लेनी होगी.

वहीं गांव के लोगों ने भी फैसले का स्वागत किया है. लोगों का मानना है कि लाउड स्पीकर और डीजे की वजह से कई बार गांव में तनाव का माहौल बनता था. इसके अलावा हर्ष फायरिंग और मृत्यु भोज पर भी गांव में प्रतिबंध लगा दिया गया है.

नियमों की निगरानी के लिए पंचायत ने 30 लोगों की निगरानी कमेटी का गठन किया है. वहीं पंचायत के इस फैसले के बाद कमेटी द्वारा नियमों की उल्लंघना करने वाले तीन लोगों को जुर्माना लगाकर 21 हजार रुपए की राशि भी वसूली जा चुकी है. जुर्माने से एकत्रित होने वाली राशि को गांव के विकास कार्यों में खर्च किया जाएगा.

ये भी पढ़ें-

कांग्रेस ने फरीदाबाद से बदला उम्मीदवार, ललित नागर की जगह अवतार भड़ाना को टिकट

कांग्रेस ने जारी की प्रत्याशियों की नई लिस्ट, सोनीपत से भूपेंद्र सिंह हुड्डा उम्मीदवारजिस नेता के पास जनता के लिए समय नहीं, उसे राजनीति में आने का अधिकार नहीं : कृष्ण कुमार

जेजेपी ने जारी की प्रत्याशियों की लिस्ट, सोनीपत से दिग्विजय चौटाला को बनाया उम्मीदवार

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जींद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 23, 2019, 12:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर