किसानों के भारत बंद पर दुष्यंत चौटाला बोले- प्रोटेस्ट करना सबका अधिकार, पर उसकी सीमा कोई न लांघे

दुष्यंत चौटाला ने किसानों को लेकर कही ये बात
दुष्यंत चौटाला ने किसानों को लेकर कही ये बात

दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने कहा कि मुझमे चौधरी देवी लाल का खून है तभी तो एश्योर कर रहा हूं की एमएसपी पर एक एक दाना ख़रीदेंगे

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 2:22 PM IST
  • Share this:
जींद. हरियाणा की गठबंधन सरकार में उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने किसानों के भारत बंद पर बोलते हुए कहा कि प्रोटेस्ट (Protest) करने का सबको अधिकार है लेकिन किसी को सीमा नही लांघनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कुछ लोग अध्यादेशों के नाम पर लोगों को भ्रमित कर रहे हैं जबकि उनकी अपनी कांग्रेस की सरकार में 7 साल पहले इन्होंने मुख्यमंत्रियों की एक कमेटी बनाई थी.

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि केंद्र सरकार ने अभी हाल ही में फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी MSP को बढ़ाया है ऐसे में किसानों को चिंतित होने की जरूरत नहीं है. केंद्र और राज्य सरकार मिलकर सुनिश्चित कर रही है कि किसानों को उनको फसलों पर MSP मिले और अगर MSP पर कोई दिक्कत आयी तो मैं अपने पद से इस्तीफा भी दे दूंगा.

अभय चौटाला के बयान पर कही ये बात



अभय चौटाला द्वारा दिए गए बयान की अगर दुष्यंत और रंजीत में देवीलाल का खून है तो वे इस्तीफा क्यों नहीं देते पर दुष्यंत ने कहा आप अभय चौटाला को सीरियस पॉलिटिशियन मानते हो. साथ ही उन्होंने कहा कि चौधरी देवी लाल का खून है तभी तो एश्योर कर रहे हैं की एमएसपी पर एक एक दाना ख़रीदेंगे. अगर ऐसा नहीं कर पाएंगे तो उससे पहले इस्तीफा देंगे. साथ ही उन्होंने बताया कि 25 सितंबर को पूर्व उपप्रधानमंत्री देवीलाल के 107 जन्मदिवस पर हर जिले में त्रिवेणी लगाकर 108 ब्लड यूनिट इक्कठी की जाएगी.
अभय चौटाला ने कही थी ये बात

बता दें कि इनेलो विधायक अभय सिंह चौटाला ने भाजपा सरकार में साझीदार अपने चाचा रणजीत सिंह चौटाला और भतीजे दुष्यंत सिंह चौटाला को खुली चुनौती दी है. केंद्र सरकार के तीन कृषि विधेयकों को आधार बनाकर अभय चौटाला ने दोनों पर हमला किया. उन्‍होंने कहा कि यदि रणजीत सिंह और दुष्यंत की रगों में ताऊ देवीलाल का खून बह रहा है तो उन्हें सत्ता को ठोकर मारकर किसानों के बीच उनके अस्तित्व की लड़ाई लड़नी चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज