उचित भाव न मिलने पर किसान ने सड़क पर फेंके टमाटर
Jind-Haryana News in Hindi

उचित भाव न मिलने पर किसान ने सड़क पर फेंके टमाटर
किसान द्वारा सड़क पर फेंके गए टमाटर

फसल की हुई दुर्गति से नाराज किसान कर्णदीप ने इसके बाद करीब 80 क्विंटल टमाटर सब्जी मंडी में ही सड़क पर बिखेर दिया. किसान कर्णदीप का कहना था कि इससे अच्छा होता वह फसल को सब्जी मंडी में लेकर ही नहीं आता.

  • Share this:
करनाल जिले के प्योंद गांव का किसान कर्णदीप सोमवार को जींद सब्जी मंडी में टमाटर की फसल बेचेने के लिए पहुंचा था. इस दौरान कुछ कैरेट एक से दो रुपए किलो के भाव से बिकी. लेकिन कुछ देर बाद इस भाव से भी टमाटर खरीदने वाला कोई ग्राहक नहीं आया.

फसल की हुई दुर्गति से नाराज किसान कर्णदीप ने इसके बाद करीब 80 क्विंटल टमाटर सब्जी मंडी में ही सड़क पर  बिखेर दिया. किसान कर्णदीप का कहना था कि इससे अच्छा होता वह फसल को सब्जी मंडी में लेकर ही नहीं आता. क्योंकि फसल के खेत से तुड़वाने से लेकर मंउी में लाने तक काफी लागत आ चुकी है और फसल के जो भाव हैं उससे लागत भी पूरी नहीं हो रही.

किसान का कहना था कि मंडी में टमाटर का कोई खरीददार नहीं है. वह घर लेकर जाएगा तो फसल खराब हो जाएगी क्योंकि गर्मी काफी बढ़ गई है. उसने इसी कारण टमाटर को सड़क पर बिखेर दिया.



सब्जी मंडी आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान जगत सिंह सैनी का कहना है कि टमाटर के भाव काफी कम हो गए हैं. सुबह एक से दो रुपए किलों के हिसाब से कुछ कैरेट बिकी थी, लेकिन इसके बाद टमाटर का कोई ग्राहक नहीं आया. इसके कारण किसानों की खेत से मंडी तक में हो रहा खर्च भी पूरा नहीं हो रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज