हरियाणा: किसानों का अनोखा फरमान, BJP-JJP से संबंध रखने वालों के साथ नहीं करेंगे लड़के-लड़की की शादी

शादी करने से पहले कन्फर्म करेंगे की परिवार बीजेपी-जेजेपी समर्थक तो नहीं है

Kisan Aandolan: किसानों ने फैसला लिया कि बीजेपी और जेजेपी से संबंध रखने वाले लोगों के परिवार के साथ कोई भी रिश्ता नहीं करेंगे.

  • Share this:
जींद. हरियणा के जींद जिले में किसानों ने एक अनोखा फैसला सुनाया है. जिले के खटकड़ टोल पर सैकड़ों किसानों की मौजूदगी में यह फैसला लिया गया कि किसान बीजेपी और जेजेपी से संबंध रखने वाले लोगों के परिवार के साथ कोई भी रिश्ता नहीं करेंगे. वो न ही अपने लड़के की शादी करेंगे, न ही लड़की की शादी (Marriage) करेंगे. बता दें कि किसान आंदोलन के चलते बीजेपी, जेजेपी के नेताओं का कार्यक्रम में आने पर पहले विरोध करने का फैसले कर चुके किसानों ने अब यह अनोखा फैसला लिया है.

इस फैसले के बारे में जानकारी देते हुए खेड़ा खाप के प्रधान सतबीर पहलवान, भाकियू जिलाध्यक्ष आजाद पालवां ने कहा कि जो सरकार 6 महीनों से धरने पर बैठे किसान, मजदूर के दर्द को नहीं समझ रही वो सरकार हमारी नहीं है. किसानों ने सरकार के साथ आर-पार की लड़ाई लड़ने का ऐलान किया. उन्होंने कहा कि किसान पीछे नहीं हटेंगे.

26 मई को मनाएंगे काला दिवस
बता दें कि केंद्र के तीन कृषि कानूनों को रद्द किए जाने की मांग को लेकर दिल्ली बॉर्डर पर किसानों का धरना लगातार जारी है. भारतीय किसान यूनियन के नेताओं ने कहा कि 26 मई को किसान घरों, वाहनों और दुकानों पर काले झंडे लगाने के लिए लोगों से आग्रह करेंगे. बता दें कि 26 मई को केंद्र की मोदी सरकार के शासन के सात साल पूरे हो रहे हैं तो तीन कृषि कानूनों व एमएसपी पर गारंटी दिए जाने की मांग को लेकर 26 नवंबर 2020 से दिल्ली के विभिन्न बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन को 6 माह पूरे हो रहे हैं. भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि इस दिन किसान काला दिवस मनाएंगे. अपने घरों पर काले झंडे लगाकर गांव-गांव में केंद्र की मोदी सरकार का पुतला फूंकेंगे और इसके बाद ही अपने खेतों पर जाएंगे.