लाइव टीवी

किसानों की चेतावनी: मांगें पूरी नहीं हुईं तो अनिश्चितकाल के लिए हरियाणा बंद

News18 Haryana
Updated: May 28, 2019, 10:22 AM IST
किसानों की चेतावनी: मांगें पूरी नहीं हुईं तो अनिश्चितकाल के लिए हरियाणा बंद
सांकेतिक तस्वीर

किसानों का कहना है कि 15 जून तक अगर सरकार ने उनकी मांगें नहीं मानीं तो वे अनिश्चितकाल के लिए हरियाणा बंद कर देंगे.

  • Share this:
हरियाणा के जींद जिले में एनएच 152डी के लिए अधिग्रहित जमीन के बदले उचित मुआवजे समेत अन्य मांगों को लेकर किला जफरगढ़ गांव के पास कई दिन से चल रहे धरने पर किसानों की महापंचायत हुई. धरने की अध्यक्षता दलाल बारहा खाप के प्रधान होशियार सिंह दलाल कर रहे हैं. महापंचायत में किसानों ने सरकार को आगामी 11 जून तक का अल्टीमेटम देते हुए मांगें नहीं मानने पर पंजाब जाने वाली सभी ट्रेनों को रोकने की चेतावनी दी है. इस दौरान महापंचायत का मंच संचालन दलाल खाप 84 के प्रवक्ता कैप्टन मान सिंह दलाल ने किया.

किसानों का कहना है कि इसके तहत जुलाना से गुजरने वाली रोहतक-लुधियाना और चरखीदादरी से गुजरने वाली रेवाड़ी-फाजिल्का ट्रेनों के परिचालन को रोका जाएगा. वहीं, 13 जून को झज्जर जिले के जाखौदा-आसौदा से गुजरने वाली दिल्ली-बठिंडा ट्रेन के पहिये को रोका जाएगा. इसके अलावा झज्जर जिले के मांडौठी गांव से गुजरने वाली गुरुग्राम नहर को भी चलने नहीं दिया जाएगा. किसानों का कहना है कि 15 जून तक अगर सरकार ने उनकी मांगें नहीं मानी तो वे अनिश्चितकाल के लिए हरियाणा बंद कर देंगे.

गौरतलब है कि विभिन्न मांगों को लेकर किसान पिछले दो महीने से रमेश दलाल के नेतृत्व में किला जफरगढ़ गांव (जींद) और रामपुर गांव (चरखीदादरी) में धरना कर रहे हैं. इसी सिलसिले में जुलाना बारहा के प्रधान राजमल लाठर के सहयोग से महापंचायत बुलाई गई, जिसमें प्रदेश की कई खापों और किसान संगठनों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया.

महापंचायत में लिए गए ये फैसले 

किसानों ने सरकार से मांग की है कि NH 152D के लिए अधिग्रहित जमीन के बदले किसानों को दो करोड़ रुपए प्रति एकड़ जमीन का मुआवजा दिया जाए. इसके अलावा हरियाणा को सतलज-यमुना लिंक यानी एसवाईएल (SYL) नहर का पानी दिया जाए. उनका कहना है कि सुप्रीम कोर्ट ने SYL मामले का फैसला हरियाणा के पक्ष में दिया है. इसलिए सेना के सहयोग से पंजाब के क्षेत्र में नहर का निर्माण हो और हरियाणा को उसके हक का पानी मिले.

इसके अलावा हिंदू विवाह अधिनियम में संशोधन कर 3जी फार्मूला लागू किया जाए. इस फार्मूले के तहत अपने गोत्र, गांव में विवाह निषेध होगा. वहीं, पाकिस्तान जाने वाले पानी को रोकने की मांग की है. साथ ही महापंचायत में किसानों ने ये भी कहा कि अगर पंजाब उनके हक का पानी नहीं देगा, तो वे भी पंजाब जाने वाली सारी ट्रेनों को रोक देंगे.

ये भी पढ़ें:- अब हरियाणा विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी बीजेपी! 
Loading...

ये भी पढ़ें:- मुस्लिम युवक की उतारी टोपी, जय श्री राम नहीं बोला तो पिटाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जींद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 28, 2019, 10:07 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...