लाइव टीवी

हरियाणा के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री मांगे राम गुप्ता का निधन, जींद में ली अंतिम सांस
Jind-Haryana News in Hindi

News18 Haryana
Updated: March 6, 2020, 10:24 AM IST
हरियाणा के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री मांगे राम गुप्ता का निधन, जींद में ली अंतिम सांस
मांगे राम गुप्ता की फाइल फोटो

मांगे राम गुप्ता (Mange Ram Gupta) भजनलाल सरकार में स्‍थानीय निकाय मंत्री और वित्त मंत्री (finance minister) रहे. भूपेंद्र सिंह हुड्डा सरकार में वह परिवहन व शिक्षा मंत्री रहे. मांगे राम गुप्ता 85 वर्ष के थे.

  • Share this:
जींद . हरियाणा के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री मांगे राम गुप्ता (Mange Ram Gupta) का निधन (Death) हो गया. जींद (Jind) में अपने निवास स्थान पर उन्होंने अंतिम सांस ली. मांगे राम गुप्ता की उम्र 85 साल थी और वो पिछले कुछ समय से अस्वस्थ चल रहे थे. हरियाणा की राजनीति में मांगे राम गुप्ता का बड़ा स्थान रहा है. मांगे राम गुप्ता ने कुल 8 बार चुनाव लड़ा, जिसमें चार बार उन्होंने जीत हासिल की. वो चार बार विधायक बने और 3 बार मंत्री बने थे.

मांगे राम गुप्‍ता को गुरूवार की रात को ही जींद लाया गया था. उनका अंतिम संस्कार आज दोपहर एक बजे बनखंड महादेव श्मशान घाट में होगा. उनके निधन की खबर के बाद उनके निवास स्‍थान पर नेताओं, कार्यकर्ताओं और उनके चाहने वालों का तांता लग गया. लोग उनके अंतिम दर्शन कर उन्हें अपनी ओर से श्रद्धांजलि सुमन अर्पित कर रहे हैं.

चार बार विधानसभा चुनाव जीते



मांगे राम गुप्ता भजनलाल सरकार में स्‍थानीय निकाय मंत्री और वित्त मंत्री रहे. भूपेंद्र सिंह हुड्डा सरकार में वह परिवहन व शिक्षा मंत्री रहे. जींद क्षेत्र और हरियाणा की राजनीति में मागेराम गुप्‍ता का महत्‍वपूर्ण स्‍थान था. बीते विधानसभा चुनाव से पहले बेटे महावीर गुप्‍ता के साथ दुष्‍यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी में शामिल हुए थे. उनके बेटे महावीर गुप्‍ता जींद विधानसभा क्षेत्र से जजपा के टिकट पर चुनाव लड़े थे , लेकिन हार गए थे. मांगे राम गुप्ता ने कुल आठ बार विधानसभा चुनाव लड़े थे और चार बार जीते.



नैना चौटाला के साथ मांगे राम गुप्ता (File Photo)


1977 में पहली बार चुने गए निर्दलीय विधायक

मांगे राम गुप्ता पहली बार 1977 मे निर्दलीय विधायक चुने गये. उसके बाद 1991, 2000, 2005 में वो कांग्रेस की सीट पर जीतकर विधायक बने. 2005 के बाद राजनीति में ज्यादा सक्रिय नहीं थे, लेकिन जींद उपचुनाव में सभी पार्टियों ने चुनाव  लड़ने के लिए उनके घर दस्तक दी थी. उसके बाद  से कुछ सक्रिय नजर आए थे. 2019 में हुए विधानसभा चुनाव में जेजेपी कई और से उनके बेटे महाबीर गुप्ता ने चुनाव भी लड़ा था, लेकिन बीजेपी के कृष्ण मिड्डा से करीब 12 हज़ार वोटों से हार गए थे. इसके अलावा मांगे राम गुप्ता अग्रवाल समाज के भी कद्दावर नेता थे. व्यपार मंडल और सामाजिक संगठनों में कई अहम पदों पर काम किया. मांगे राम गुप्ता अपने पत्नी, तीन बेटे और दो बेटियां छोड़कर इस दुनिया से चले गए.

ये भी पढ़ें- चंडीगढ़ में कोरोना वायरस के दो संदिग्ध मिले, हाल ही में इंडोनेशिया और सिंगापुर से लौटे थे दोनों

 

हरियाणा: विधायकों को चीन से आए टैबलेट दिए जाने पर विपक्ष में खौफ, विज बोले- डरने की जरूरत नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जींद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 6, 2020, 10:15 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading