लाइव टीवी

डेथ सर्टिफिकेट जारी करने के लिए सरकारी अस्पताल के कर्मचारी ने ली रिश्वत, वीडियो वायरल
Jind-Haryana News in Hindi

Vijender Kumar | News18 Haryana
Updated: February 13, 2020, 9:53 AM IST
डेथ सर्टिफिकेट जारी करने के लिए सरकारी अस्पताल के कर्मचारी ने ली रिश्वत, वीडियो वायरल
डेथ सर्टिफिकेट के लिए रिश्वत

मामले में जब सिविल सर्जन (Civil Surgeon) से बात की गई तो उन्होंने कहा कि जांच के बाद कार्रवाई के आदेश दे दिए गए है. मामले की जांच एक डिप्टी सीएमओ (Deputy CMO) स्तर के अधिकारी को दी गई है.

  • Share this:
जींद. हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री के अधीन नागरिक अस्प्ताल में भ्रष्टाचार (Corruption) का मामला सामने आया है. जींद के नागरिक अस्पताल (Civil Hospital) में कार्यरत एक क्लर्क द्वारा मौत का प्रमाण पत्र जारी करने की एवज में रिश्वत लेते हुए वीडियो वायरल हुआ है. वीडियो का मामला संज्ञान में आने के बाद सिविल सर्जन ने डिप्टी सीएमओ को मामले जांच सौंप कर एक हफ्ते में रिपोर्ट देने के आदेश दिए है.

वायरल वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि पीड़ित व्यक्ति से अस्प्ताल का क्लर्क पैसे लेकर जेब मे डाल रहा है और पिछली कुछ राशि बकाया होने की भी बात कह रहा है. पीड़ित व्यक्ति जब सर्टिफिकेट के असल होने की बात पूछता है तो क्लर्क उसे ओरिजिनल होने की गारंटी देता है.

सुंदरपुर गांव के सुरेंद्र सिंह ने बताया कि उनकी दो रिश्तेदारों की मौत के बाद सरल केंद्र से रसीद लेकर डेथ सर्टिफिकेट अप्लाई किया था. लेकिन 15 दिन बीत जाने के बाद भी जब प्रमाण पत्र नही मिला उसने दोबारा पता करने की कोशिश की. जिसके बाद अस्प्ताल में कार्यरत एक क्लर्क ने उससे पैसे लेकर वो सर्टिफिकेट जारी कर दिए.

बिना पैसे सर्टिफिकेट देने से किया इनकार

इसके बाद जब उसके पिता प्यारे लाल की मौत हुई तो डेथ सर्टिफिकेट बनाने के लिए दोबारा से रिश्वत की मांग की गई. पीड़ित ने जब उनसे गुजारिश की तो बिना पैसे के सर्टिफिकेट जारी करने से मना कर दिया गया. पीड़ित ने आरोपी की वीडियो बनाई और सिविल सर्जन को शिकायत सौंपी है.

मामले की जांच शुरू

मामले में जब सिविल सर्जन से बात की गई तो उन्होंने कहा कि जांच के बाद कार्रवाई के आदेश दे दिए गए है. मामले की जांच एक डिप्टी सीएमओ स्तर के अधिकारी को दी गई है. मामले की जांच जारी है.ये भी पढ़ें- मंत्रियों के लिए 10 नई फॉर्च्यूनर गाड़ियां खरीदेगी हरियाणा सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जींद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 13, 2020, 9:45 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर