Home /News /haryana /

दुष्यंत चौटाला का बड़ा बयान, बोले- बहकावे में न आएं किसान, अगर MSP पर नहीं खरीदी गई फसल तो दे दूंगा इस्‍तीफा

दुष्यंत चौटाला का बड़ा बयान, बोले- बहकावे में न आएं किसान, अगर MSP पर नहीं खरीदी गई फसल तो दे दूंगा इस्‍तीफा

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कही ये बात

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कही ये बात

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Deputy CM Dushyant Chautala) ने कृषि बिल को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्‍होंने कहा कि किसान किसी के बहकावे में न आएं, अगर एमएसपी (MSP) पर फसल नहीं खरीदी गई तो मैं सबसे पहले इस्‍तीफा दे दूंगा .

अधिक पढ़ें ...
फरीदाबाद. हरियाणा प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Deputy Chief Minister Dushyant Chautala) ने कहा है कि विपक्षी दलों के नेता तीन नए कृषि अध्यादेशों (Agricultural ordinances) पर किसानों को बहकाने का काम कर रहे हैं. जबकि सच्चाई यह है कि किसानों की फसलें न्यूनतम समर्थन मूल्यों (MSP) पर खरीदी जाएंगी और मंडी व्यवस्था पर भी इन अध्यादशों का कोई प्रतिकूल असर नहीं होगा. उन्होंने कहा कि अगर किसानों की फसलें एमएसपी पर नहीं खरीदी जाती है तो सबसे पहले उनके द्वारा इस्तीफा दिया जाएगा. चौटाला ने ये बात गुरुवार को जींद स्थित जननायक जनता पार्टी के जिला कार्यालय पर जनसमस्याएं सुनने के बाद पत्रकारों से रूबरू होने के दौरान कही.

कृषि अध्यादेशों का किसानों को फायदा होगा: दुष्यंत चौटाला
इस दौरान डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला कहा कि इन तीन कृषि अध्यादेशों का किसानों को फायदा होगा न कि नुकसान. उन्होंने कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि आज से सात वर्ष पहले इस पार्टी के नेता इन अध्यादेशों को लागू करने जा रहे थे, लेकिन आज जब यह अध्यादेश आ गये हो गए हैं, तो अब उन्हीं के द्वारा ही इनका विरोध किया जा रहा है. दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पिछले गेंहू खरीद के सीजन में भी विपक्षी दलों के नेता इस्तीफे की मांग कर रहे थे, लेकिन जब कोरोना काल में भी किसानों की फसलों को व्यवस्थित तरीके से खरीदकर पैसा सीधा किसानों के खातों में डालने का काम किया गया और किसान भी इस व्यवस्था से खुश नजर आए, तब उन नेताओं की बोलती बंद हुई. दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इसी प्रकार अब जब मंडियों में किसानों की खरीफ सीजन की फसलें निर्धारित एमएसपी पर खरीद जाएगी तो विपक्षी दलों की एक बार फिर बोलती बंद होगी. उन्होंने कहा कि किसानों की फसलों का एक-एक दाना एमएसपी पर खरीदा जाएगा. साथ ही कहा कि सरकार द्वारा फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य को बढ़ाकर जता दिया है कि अध्यादेशों से एमएसपी पर किसी प्रकार का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा, इसलिए किसी भी किसान को भ्रमित व चिंतित होने की कोई जरूरत नहीं है.

जींद में बनेगा लेबर बोर्ड का मुख्यालय
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि जींद जिला में लेबर बोर्ड का मुख्यालय स्थापित करवाया जाएगा. इसके लिए जींद के आस-पास जमीन तलाशने के निर्देश अधिकारियों को दे दिए गए हैं. उन्होंने काह कि यहां श्रम बोर्ड का मुख्यालय स्थापित होने से इस क्षेत्र का काफी विकास होगा और लोगों को अपने कार्य करवाने के लिए जिला से बाहर जाने की आवश्यकता नहीं रहेगी. दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जींद-रोहतक नेशनल हाई-वे का बंद पड़ा कार्य भी शुरू हो गया है और इस मार्ग पर काम शुरू होने से लोगों में खुशी का माहौल है.



सरकार करेगी लोक कलाकारों का सहयोग
दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से सभी क्षेत्रों के विकास पर काफी प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है, इन क्षेत्रों में दोबारा से प्रगति शुरू करने के लिए सरकार द्वारा पूरा सहयोग किया जा रहा है. उन्होंने काह कि लोक कलाकारों पर भी कोरोना काल का काफी विपरित असर पड़ा है और कलाकारों का सहयोग करने के लिए सरकार जल्द ही कोई फैसला लेगी.

25 सितम्बर को रक्तदान शिविर लगाकर मनाई जाएगी जननायक देवीलाल की जयंती
उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पूर्व उपप्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल की 107वीं जयंती मनाने के लिए पार्टी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं द्वारा तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं. उन्होंने कहा कि पार्टी ने फैसला लिया है कि इस बार चौधरी देवीलाल की जयंती के उपलक्ष्य पर जिला मुख्यालयों पर रक्तदान शिविरों का आयोजन करवाया जाएगा और त्रिवेणी लगाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया जाएगा. वहीं प्रदेश में स्थापित चौधरी देवीलाल की प्रतिमाओं को साफ-स्वच्छ किया जाएगा. उन्होंने कहा कि जींद में होने वाले कार्यक्रम में जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह चौटाला शिरकत करेंगे.

Tags: Agricultural Law, Bjp government, CM Manohar Lal Khattar, Dushyant chautala, Haryana Government, Jind news, MSP of crops

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर