Oxygen सिलेंडर ले जा रही गाड़ी को पुलिस ने रातभर चौकी में रखा, समय पर ऑक्सीजन नहीं मिल पाने से मरीज की मौत

ऑक्सीजन ने मिलने से मौत

ऑक्सीजन ने मिलने से मौत

ऑक्सीजन नहीं मिलने से मंगलवार सुबह कोरोना पॉजिटिव ने दम तोड़ दिया. मृतक के रिश्तेदार संबंधित गाड़ी के चालक को साथ लेकर DIG से मिले.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2021, 8:02 AM IST
  • Share this:
जींद: हरियाणा के जींद जिले की पुलिस (Police) पर आरोप लगा है कि ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर जा रही गाड़ी को पकड़कर रातभर चौकी में रखा. हालांकि उसने जरूरमंद कोरोना मरीज (Corona Patient) से फोन पर बात भी करवाई, लेकिन रौब के भूखे खाकी वालों ने एक न सुनी. हालांकि सुबह बिना कार्रवाई के ही उसे छोड़ दिया. पुलिस की वजह से मरीज को वक्त पर ऑक्सीजन नहीं मिल पाई और उसने दम तोड़ दिया. हालांकि पुलिस वाले इस तरह के आरोप से इनकार भी करते नजर आ रहे हैं.

बता दें कि कोरोना मरीज की जान बचाने के लिए पंजाब की धुरी से एक ड्राइवर इन्नोवा गाड़ी में ऑक्ससीजन सिलेंडर लेकर चला था. मरीज की ऑक्ससीजन ख़त्म होने से पहले हरियाणा और दिल्ली को क्रॉस करते हुए रात 3 बजे गाजियाबाद पहुंचना था. रात को 11 बजे जींद पुलिस ने उसे रोक लिया. जाच के बाद उसे सुबह छोड़ा गया, लेकिन  तब तक मरीज की मौत हो चुकी थी.

इन्नोवा के ड्राइवर का कहना गाजियाबाद अस्पताल में दाखिल मालिक के रिश्तेदार के लिए वो ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर जा रहा था. पुलिस के रोकने के कारण मरीज की मौत हुई है. मुझे 3 बजे तक गाजियाबाद पहुंचना था, लेकिन पुलिस ने जाने नहीं दिया. ऑक्ससीजन नहीं मिलने से मरीज की मौत हुई. वहीं इस मामले में जींद पुलिस एसपी ने जांच के आदेश दे दिए हैं, उन्होंने कहा कि आरोपों में जो भी तथ्य सामने आएंगे उस हिसाब से कार्रवाई की जाएगी.

पुलिस ने अपनी सफाई मेंं कही ये बात
उधर चौकी इंचार्ज ने पुलिस पर लगाए गए सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया. उनका कहना है कि रात को पंजाब के नंबर की गाड़ी को रुकवाया गया. इसमें दो ऑक्सीजन सिलेंडर मिले. चालक मौके पर जरूरी कागजात नहीं दिखा पाया. बाद में उसने कागजात दिखा दिए तो उसे रात में ही छोड़ दिया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज