लाइव टीवी

जींद: निर्भया अवॉर्ड समारोह में पहुंची सोनाली फोगाट, 45 बेटियों को किया सम्मानित
Jind-Haryana News in Hindi

Vijender Kumar | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 2, 2020, 6:44 PM IST
जींद: निर्भया अवॉर्ड समारोह में पहुंची सोनाली फोगाट, 45 बेटियों को किया सम्मानित
बीजेपी की नेत्री सोनाली फोगाट ने जींद में 45 बेटियों को निर्भया अवॉर्ड से सम्मानित किया.

जींद के शाइनिंग स्टार्स प्ले स्कूल भिवानी रोड पर प्रदेश, राष्ट्रीय और अन्तराष्ट्रीय स्तर पर अपने देश का नाम रोशन करने वाली प्रदेश की 45 बेटियों को निर्भया अवॉर्ड से नवाजा गया. इस राज्यस्तरीय निर्भया अवॉर्ड समारोह में प्रमुख अभिनेत्री और भाजपा (BJP) नेत्री सोनाली फोगाट (Sonali Phogat) मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित रहीं

  • Share this:
जींद. अखिल भारतीय अग्रवाल समाज हरियाणा, शाईनिंग स्टार्स फांऊडेशन हरियाणा, महात्मा गांधी शिक्षा एवं समाज विकास संगठन हरियाणा (Haryana) इत्यादि द्वारा जींद में निर्भया की याद में (In The Memory) राज्यस्तरीय निर्भया अवार्ड (Award) आयोजित किया गया. जींद के शाइनिंग स्टार्स प्ले स्कूल भिवानी रोड पर प्रदेश, राष्ट्रीय और अन्तराष्ट्रीय स्तर पर अपने देश का नाम रोशन करने वाली प्रदेश की 45 बेटियों को निर्भया अवॉर्ड से नवाजा गया. इस राज्यस्तरीय निर्भया अवॉर्ड समारोह में प्रमुख अभिनेत्री और भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित रहीं, जबकि समारोह की अध्यक्षता प्रमुख समाज सेवी व अखिल भारतीय अग्रवाल समाज हरियाणा के अध्यक्ष राजकुमार गोयल ने की. इस अवसर पर सोनीली फोगाट के अलावा जींद से भाजपा के विधायक कृष्ण मिढ़ा की तरफ राजन चिलाना, अखिल भारतीय वैष्णव बैरागी सेवा संघ के युवा प्रदेशाध्यक्ष मनोज स्वामी इत्यादि ने सम्मानित अतिथि के तौर पर शिरकत की.

फिल्म पैडमैन से  प्रेरित होकर पैड बनाने का काम किया शुरू

इस समारोह में पूरे प्रदेश से चयनित की गई लगभग तीन दर्जन से ज्यादा ऐसी बेटियों को निर्भया अवॉर्ड से सम्मानित किया गया जिन्होंने किसी भी क्षेत्र में विशेष उपलब्धि हासिल कर समाज का नाम रोशन किया है. इनमें एक नाम था पानीपत की सविता आर्य का जो दुर्गा शक्ति ऐप के लिए अभियान चला कर महिलाओं को जागरूक कर रही है. इन्हीं बेटियों में एक नाम था कुरूक्षेत्र की मुस्कान शर्मा का जिन्होंने अक्षय कुमार की फिल्म पैडमैन से प्रेरित होकर पैड बनाने का काम शरू किया और अब मुस्कान शर्मा नि:शुल्क पैड वितरित करने का काम कर रही है.

स्लम में जाकर निशुल्क पढ़ाने का काम कर रही हैं

यहां सम्मानित होने वाली बेटियों में एक नाम था हिसार की सुदेश चहल का जो राह ग्रुप फाउंडेशन चलाकर स्लम बस्तियों में जाकर नि:शुल्क शिक्षा देने का काम कर रही हैं. इन्हीं बेटियों में एक नाम था जींद जिले की सोनाली श्योकंद का जिन्होंने पराली जलाने पर अपने पिता तक की शिकायत कर डाली और उन्हे जुर्माना तक करवा डाला. इन्ही बेटियों में एक नाम रहा यमुनानगर कि गीता शर्मा का जो मिशन पाठशाला नाम से संस्था चलाकर स्लम बस्ती के जरूरतमंद लड़के व लड़कियों को नि:शुल्क शिक्षा देने का काम कर रही है. एक नाम था हिसार जिले की बुलबुल का जिसने नेशनल डीफ व ब्लाइंड चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीतकर यह जता दिया कि सफलता में दिव्यांगता आड़े नहीं आती.

सुमन ने दोनों हाथ गंवाए पर हौसलों को नहीं होने दिया पस्त

यहां सम्मानित होने वाली में जींद की शारदा आसरी का भी नाम शामिल था, जो पिछले पांच साल से स्लम बस्ती के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा देकर मुख्यधारा से जोड़ने का प्रयास कर रही है. एक नाम था जींद के गांव खटकड़ की रहने वाली रीतू खटकड़ का जिसने कबड्डी में इंटरनेशनल खेल कर वर्ल्ड कप जीता और देश का नाम रोशन किया. एक बेटी थी दालमवाला गांव की नाम था सुमन. बचपन में चारा काटने की मशीन में दोनों हाथ कट गए थे लेकिन सुमन ने हिम्मत नहीं हारी और अपनी पढ़ाई जारी रखी. लगातार मेहनत का परिणाम था कि शारीरिक विकलांगता आड़े नहीं आई और अब सुमन लाइफ इन्श्योरेंस कंपनी में एडवाईजर के तौर पर कार्य कर रही है.1100 से ज्यादा निशुल्क नैपकिन बांटने के लिए हुई सम्मानित

इन्हीं बेटियों में एक नाम है कुरूक्षेत्र की पूनम सैनी का जो महिला सुरक्षा को लेकर समय-समय पर सेमिनार आयोजित करवाती रहती है. एक नाम है जींद जिले की ही रेखा धीमान का जो उड़ान हौंसलों की संस्था के तहत मासिक धर्म जागरूकता अभियान चलाती हैं और इसी अभियान के तहत 1100 से ज्यादा लड़कियों को नि:शुल्क नैपकिन वितरित कर चुकी हैं. इसके साथ-साथ 21 बेटियों को गोद लेकर उन्हें नि:शुल्क कोचिंग देने का काम कर रही हैं.

तीन दर्जन से ज्यादा बेटियां हुईं सम्मानित

इस अवसर पर अपने सम्बोंधन में सोनाली फोगाट ने कहा कि अग्रवाल समाज, शाईनिंग स्टार्स फांउडेशन व महात्मा गांधी शिक्षा एवं सामाजिक विकास संगठन द्वारा आज का जो निर्भया अवार्ड समारोह आयोजित किया गया उसके लिए इन संस्थाओं के सभी पदाधिकारी बधाई के पात्र हैं. उन्होंने कहा कि इस समारोह में शामिल होकर उन्हें बेहद खुशी हो रही है. उन्होंने कहा कि निर्भया की याद में इन संस्थाओं द्वारा पूरे प्रदेश की जो तीन दर्जन से ज्यादा ऐसी बेटियों को सम्मानित किया गया, वे सराहनीय हैं.

यह भी पढ़ें: रविदास जयंती के आयोजन को लेकर हुआ खूनी संघर्ष, कई घायल, मकान फूंका

BUDGET 2020: हड़प्‍पाकालीन सभ्‍यता का गवाह राखीगढ़ी विश्व के मानचित्र पर चमकेगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जींद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 2, 2020, 6:44 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर