लाइव टीवी

जींद के सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों की भारी कमी, फिजीशियन तक नहीं

Vijender Kumar | News18 Haryana
Updated: November 21, 2018, 5:57 PM IST
जींद के सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों की भारी कमी, फिजीशियन तक नहीं
जींद का सिविल हॉस्पिटल

डॉक्टरों की संख्या की बात अगर जिला स्तर पर करें तो जिले में डॉक्टरों के कुल पद 208 हैं जिनमें 145 पदों पर डॉक्टर नहीं हैं. भला ऐसे में कैसे सभी को बेहतर स्वास्थ्य सेवा मिल सकती है. डिप्टी सिविल सर्जन की बात करें तो जिले में 8 पोस्टों पर केवल एक ही पद भरा हुआ है.

  • Share this:
आई सर्जन नहीं, ईएनटी स्पेशलिस्ट नहीं, स्किन स्पेशलिस्ट भी नहीं. इनके अलावा कोई रेडियोलॉजिस्ट नहीं, यहां तक के फिजीशियन भी नहीं है. यह दशा है जींद के उस सरकारी हॉस्पिटल की. जिसमें हर रोज 1500 से 2000 पेशेंट की ओपीडी है. यहां डॉक्टरों के कुल 55 पद स्वीकृत हैं जिनमें से 36 फिलहाल खाली हैं. जींद सिविल हॉस्पिटल में कुल 19 डॉक्टर ही हैं यानि की 19 डॉक्टरों के सहारे दो हजार पेशेंट के लगभग रोज आते हैं.

डॉक्टरों की संख्या की बात अगर जिला स्तर पर करें तो जिले में डॉक्टरों के कुल पद 208 हैं जिनमें 145 पदों पर डॉक्टर नहीं हैं. भला ऐसे में कैसे सभी को बेहतर स्वास्थ्य सेवा मिल सकती है.  डिप्टी सिविल सर्जन की बात करें तो जिले में 8 पोस्टों पर केवल एक ही पद भरा हुआ है. डॉक्टरों का कहना है कि  इस हॉस्पिटल में मरीज़ों की संख्या ज्यादा रहती है और उन्हें एक्स्ट्रा टाइम देना पड़ता है.

वहीं जब सीएमओ संजय दहिया से बात की गई तो उनका कहना था डॉक्टरों की कमी है जिसके चलते परेशानी तो होगी ही. डॉक्टरों की कमी के बारे में उच्च अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है. वहां से आश्वासन मिला है कि जल्दी ही डॉक्टरों की कमी दूर होगी.

यह भी पढ़ें - मिलावटी शराब को लेकर स्वास्थ्य विभाग की टीम की छापेमारी

यह भी पढ़ें - गुरुग्राम में अवैध रूप से चलाए जा रहे नशा मुक्ति केंद्र पर छापा, 52 लोगों का कराया रेस्क्यू

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जींद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 21, 2018, 5:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर