लाइव टीवी

शॉर्टकट के लिए जान हथेली पर, यहां स्कूल पहुंचने के लिए रेलवे ट्रैक पर चलते हैं बच्चे

Vijender Kumar | News18 Haryana
Updated: October 8, 2018, 5:39 PM IST
शॉर्टकट के लिए जान हथेली पर, यहां स्कूल पहुंचने के लिए रेलवे ट्रैक पर चलते हैं बच्चे
सरकारी स्कूल के छात्रों को भी मिलती है छूट- ग्रामीण क्षेत्रों में बने सरकारी स्कूल के छात्र साल में एक बार स्टडी टूर पर 75 प्रतिशत का डिस्काउंट ले सकते हैं. इसके अलावा उस स्कूल में पढ़ रही छात्राओं के लिए अलग प्रावधान भी है जिसके अनुसार अगर कोई छात्रा राष्ट्रीय स्तर की मेडिकल, इंजीनियरिंग, और अन्य एग्जाम के लिए जाती है तो उसे भारतीय रेलवे 75 प्रतिशत का डिस्काउंट देता है.

स्कूल के बच्चों ने खुद माना है कि वे सीधे रास्ते की बजाय शार्टकट रास्ता अपनाते हैं और रेल की पटरी पर चलते हुए स्कूल आते हैं.

  • Share this:
जींद में भिवानी रोड स्थित बाल आश्रम स्कूल में पढ़ने वाले सैकड़ों बच्चे जान हथेली पर रखकर स्कूल जाते हैं. ये बच्चे रेलवे ट्रैक पर चलते हुए स्कूल पहुंचते हैं. जिस ट्रैक पर ये बच्चे चलते हैं उस ट्रैक पर हर 10 मिनट में एक ट्रेन गुजरती है. शॉर्टकट के लिए बच्चे इस रास्ते का अपनाते हैं. जो कभी भी किसी बड़े हादसे को न्योता दे रहे हैं.

ये सभी बच्चे भिवानी रोड पर स्थित बाल आश्रम स्कूल में पढ़ते हैं. इस सरकारी स्कूल में आसपास के करीब 2 किलोमीटर एरिया की बस्तियों के बच्चे पढऩे आते हैं. जो बच्चे दुर्गा कालोनी, विकास नगर और भिवानी रोड़ बाईपास की तरफ से आते हैं. उनमें से सैकड़ों बच्चे सीधे रास्ते की बजाय शॉर्टकट अपनाते हैं. ऐेसे में बच्चों का इस रेलवे लाइन पर चलना जोखिम भरा है. वहीं स्कूल के अध्यापक का कहना है कि वो प्रार्थना के वक्त बच्चों को ट्रैक पर नहीं चलने के लिए कहते हैं.

बसपा की नीली पगड़ी पहनने से ओपी चौटाला ने किया इनकार!

स्कूल के बच्चों ने खुद माना है कि वे सीधे रास्ते की बजाय शार्टकट रास्ता अपनाते हैं और रेल की पटरी पर चलते हुए स्कूल आते हैं. बच्चों का कहना था कि सीधा रास्ता काफी दूर पड़ता है इसलिए बीच रास्ते का अपनाते हैं.

जींद में निजी बस ने कार और बाइक को मारी टक्कर, 4 लोगों की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जींद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 8, 2018, 5:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर