Jind: खुद को CBI इंस्पेक्टर बताकर धौंस दिखाने वाले का SHO दोस्त भी निकला ‘फर्जी’, रौब झाड़ने पर खुली पोल

पुलिस गिरफ्त में आरोपी.

पुलिस गिरफ्त में आरोपी.

Fake CBI Officer, Fake SHO: हरियाणा की जींद पुलिस (Jind Police) ने फर्जी सीबीआई इंस्पेक्टर की गिरफ्तारी के बाद अब फर्जी एसएचओ को भी दबोच लिया है. नकली SHOअनिल दहिया ने अमन से अवैध हथियार खरीदे थे.

  • Share this:

जींद. हरियाणा (Haryana) की जींद पुलिस (Jind Police) ने फर्जी सीबीआई इंस्पेक्टर(Fake CBI Inspector) की गिरफ्तारी के बाद अब फर्जी एसएचओ (Fake SHO) को भी दबोच लिया है. नकली SHO अनिल दहिया ने अमन से अवैध हथियार खरीदे थे. सफीदों सदर पुलिस ने मामले में कार्रवाई की है. नकली सीबीआई इंस्पेक्टर बनकर सफीदों पुलिस को धौंस दिखाने वाले अनिल दहिया से पुलिस ने गहनता से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसके जिस साथी अमन ने लड़की के परिवार को एसएचओ गोहाना बनकर धमकी दी थी. वह भी नकली है और उसी से उसने यह नाजायज हथियार खरीदा था. उसके बाद पुलिस ने दबिश दी और अमन को हिरासत में लेकर सफीदों ले आई.

गौरतलब है कि उपमंडल सफीदों के गांव हाट की एक लड़की का अपने सुसराल वालों से तनाव चल रहा था और वह अपने मायके में आकर रह रही थी. अनिल दहिया नामक युवक लड़की वालों पर अपने आप को सीबीआई इंस्पेक्टर बतलाकर दबाव बना रहा था कि अपनी लड़की को गोहाना भेज दो, अन्यथा लड़की को जबरदस्ती गांव से उठाकर ले जाएंगे. उसके बाद अमन ने लड़की के पिता के पास अपने आप को एसएचओ गोहाना बतलाकर फोन किया तथा कहा कि गोहाना थाना आ जाओ अन्यथा गांव से उठाकर ले जाऊंगा. जिस पर लड़की वालों ने कहा कि थाना सदर सफीदों में आ जाओ, वहीं बैठकर बातचीत करेंगे. वह धमकी देने वाला सफीदों सदर थाने में आया और अपने आप को अनिल दहिया सीबीआई इंस्पेक्टर बताया और उसके पास पिस्तौल भी था.

खुद को बता रहा था सीबीआई इंस्पेक्टर

पुलिस ने जब लड़की वाले मामले में दोनों पक्षों को बुलाकर पूछताछ शुरू की तो अनिल दहिया ने रौब झाड़ते हुए कहा कि मैं सीबीआई इंस्पेक्टर हूं और इन लड़की वालों पर कार्रवाई करो. अनिल दहिया द्वारा बार-बार अपने आप को सीबीआई इंस्पेक्टर बताने पर एएसआई मलकीत को शक हुआ तो उसने अनिल दहिया की पिस्तौल व आई कार्ड चेक किया तो दोनों नकली पाए गए. पुलिस ने नकली पिस्तौल व फर्जी आईकार्ड के साथ आरोपी अनिल दहिया को काबू करके उससे पूछताछ शुरू की तो उसने बताया कि उसके साथ गोहाना का अमन भी शामिल है और उसी ने फर्जी एसएचओ गोहाना बनकर लड़की वालों को फोन किया था और उसी से उसने नाजायज हथियार लिया था. इसी पूछताछ के आधार पर पुलिस ने गोहाना के अमन को काबू किया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज