पटियाला जेल में नाम बदलकर रह रहा था हरियाणा का उम्रकैदी बदमाश, ऐसे खुला राज

सीआइए इंचार्ज वीरेंद्र खर्ब ने बताया कि सूर्यवीर पर दिल्ली, पंजाब व हरियाणा में हत्या, हत्या का प्रयास, फिरौती, डकैती, शस्त्र अधिनियम जैसे संगीन 11 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं

Vijender Kumar | News18 Haryana
Updated: August 30, 2019, 10:39 AM IST
पटियाला जेल में नाम बदलकर रह रहा था हरियाणा का उम्रकैदी बदमाश, ऐसे खुला राज
पैरोल में भागा सूर्यवीर
Vijender Kumar
Vijender Kumar | News18 Haryana
Updated: August 30, 2019, 10:39 AM IST
हत्या के मामले में उम्रकैद (Life Prisonment) की सजा पाने वाला एक नामी बदमाश जेल से पैरोल (Parole) पर आने के बाद फरार हो गया. पुलिस इस भगोड़े की  लंबे समय से तलाश कर रही थी लेकिन यह बदमाश नाम बदल कर पंजाब की पटियाला जेल में मिला. हरियाणा की भोंडसी जेल की पैरोल से फरार होने के बाद 28 मार्च को मोहाली पुलिस ने उसे मुठभेड़ में काबू किया था. वहां पर उसने अपनी पहचान मोहाली निवासी सुखदीप उर्फ दीप बताई थी, ताकि हरियाणा पुलिस को उसकी भनक न लगे. पंजाब पुलिस ने उसे सुखदीप मानकर पटियाला जेल भेज दिया.

कैसे हुआ खुलासा 

सूर्यवीर नाम बदलकर आराम से पटियाला जेल में रह रहा था  कुछ दिन पहले पटियाला जेल से जींद आए एक बंदी ने उसका राज खोल दिया. सूर्यवीर नामक इस बदमाश पर हरियाणा, पंजाब व दिल्‍ली में हत्‍या और डकैती के 11 मामले दर्ज हैं. फिलहाल जींद पुलिस ने सूर्यवीर को पटियाला जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लिया है. उसके बाद जींद पुलिस ने आरोपित को अदालत में पेश कर एक दिन की रिमांड पर लिया है.

11 आपराधिक मामले दर्ज

‌सीआइए इंचार्ज वीरेंद्र खर्ब ने बताया कि सूर्यवीर पर दिल्ली, पंजाब व हरियाणा में हत्या, हत्या का प्रयास, फिरौती, डकैती, शस्त्र अधिनियम जैसे संगीन 11 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं. सूर्यवीर ने 1 अक्टूबर 2008 को जींद शहर में राजू नाम के व्यक्ति की हत्या की थी. इस मामले में अदालत ने उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई. जींद जेल में विजय गैंग के बदमाशों से जान का खतरा बताकर सूर्यवीर ने अपनी जेल भौंडसी बदलवा ली. वहां से वह 2014 में चार सप्ताह की पैरोल लेकर बाहर आया, लेकिन उसके बाद जेल नहीं गया. पुलिस ने उस पर दस हजार रुपये का इनाम घोषित किया था.

पुलिस के साथ सूर्यवीर


अपने साथी से लेना चाहता था बदला
Loading...

सूर्यवीर ने पुलिस को बताया कि उसके मन में टीस थी कि वह साथी सहदेव की हत्या का विजय से बदला लेगा. सूर्यवीर जेल से फरार चल रहा था. तभी 28 मार्च को उसकी मोहाली पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ हुई और वह पकड़ा गया.

ये भी पढ़ें:- गुरुग्राम में 2 साल की मासूम के साथ रेप, आरोपी गिरफ्तार

महिला का आरोप, कैप्टन यादव की कोठी पर युवक ने किया दुष्कर्म

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जींद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 30, 2019, 10:39 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...