कैथल: 13 पेज का सुसाइड नोट लिखकर लगाया फंदा, पत्नी और महिला ASI से खुद को बताया परेशान

30 साल के शादीशुदा शख्स ने की आत्महत्या
30 साल के शादीशुदा शख्स ने की आत्महत्या

Suicide: मृतक की पत्नी ने पूरे परिवार पर केस दर्ज करवा रखा था और 15 लाख रुपये की डिमांड की थी. पुलिस के आलाधिकारियों ने आरोपियों पर कार्रवाई की बात कही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 2, 2020, 10:13 AM IST
  • Share this:
कैथल. सिरटा रोड स्थित महादेव कॉलोनी में 30 वर्षीय युवक रमन कश्यप ने फंदा लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली. सुबह जब रमन की बहन कमरे में गई तो भाई पंखे पर फंदे से लटका हुआ था. आत्महत्या से पहले रमन ने 13 पेज का एक सुसाइड नोट (Suicide Note) भी लिखा, जिसमें पत्नी, ससुरालवालों व कुछ युवकों को मौत का जिम्मेदार ठहराया गया है.

सुसाइड नोट में आरोप है कि पत्नी किसी लड़के से मोबाइल पर बातचीत करती थी, जिस वजह से दोनों के बीच तकरार रहने लगी. पत्नी कई महीने से मायके में रह रही थी. महिला ने पति और ससुराल वालों के खिलाफ शहर थाना में शिकायत भी दर्ज करवाई हुई है. रमन के परिवार का आरोप है कि सिटी थाना की महिला जांच अधिकारी एएसआई बबीता ने उनसे एक लाख रुपए ले लिए और रमन को प्रताड़ित किया गया.

रमन की बहन रेनू की शिकायत पर शहर थाना पुलिस ने रमन की पत्नी, उनके घर वालों और एएसआई बबीता सहित कई लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज किया है. परिवार ने पुलिस के सामने आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग की. गिरफ्तारी न होने पर सिविल अस्पताल के सामने सड़क पर शव रखकर जाम लगा दिया. एक घंटे से ज्यादा समय रोड जाम रहा. मौके पर पहुंचे एसडीएम संजय कुमार, डीएसपी कुलवंत बिश्नोई, डीएसपी दलीप ने आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए दो दिन की मोहलत मांगी, जिसके बाद परिवार वालों ने जाम खोला.



पत्नी ने पूरे परिवार पर दर्ज करवा रखा था केस
परिजनों ने बताया कि रमन की एक बहन और दो भाई हैं. रमन पब्लिक हेल्थ में ट्यूबवेल ऑपरेटर था और मार्च  2019 में शादी हुई थी. अभी उसका कोई बच्चा नहीं है. आरोप है कि रमन की पत्नी दूसरे लड़कों से कॉल व मैसेज से बात करती थी, जिसको लेकर उसका भाई रोक टोक करता था. इसके बाद रमन की पत्नी ने रमन सहित पूरे परिवार पर केस दर्ज करवा दिया. परिजनों ने बताया कि हमारा पूरा परिवार नौकरी पर लगा हुआ है.

15 लाख रुपए मांगने का आरोप
आरोप है कि एएसआई बबीता ने रमन के परिजनों का नाम केस से बाहर करने और रमन पर हल्‍की धाराओं में मामला दर्ज करने की बात कही थी. इसके एवज में बबीता ने एक लाख रुपए ले लिए. रमन की पत्नी के मायके वालों ने शिकायत नहीं उठाई और 15 लाख रुपए मांगने लगे. प्रताड़ऩा से तंग आकर रमन ने आत्महत्या कर ली. हालांकि, पुलिस अधिकारी बबीता से पैसे मांगने के कोई सबूत नहीं है, लेकिन सुसाइड नोट में उक्त अधिकारी द्वारा प्रताड़ना की बात अवश्य कही गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज