कैथल: नगर परिषद चेयरपर्सन का पिता और भाई 3 लाख रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार

विजिलेंस की टीम ने मारा छापा

डोर टू डोर गारबेज कलेक्शन एजेंसी (Door to Door Garbage Collection Agency) के संचालक बलबीर नौच ने विजिलेंस को मंगलवार सुबह शिकायत दी थी.

  • Share this:
कैथल. विजिलेंस विभाग की टीम ने कैथल की नगर परिषद की चेयरमैन सीमा कश्यप के पिता सुरेश कश्यप तथा भाई शिवा कश्यप को कूड़े उठाने के ठेकेदार (Contractor) से चेक देने की एवज में 3 लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है. टीम ने नगर परिषद की चेयरमैन सीमा कश्यप (Seema Kashyap), उसके पिता सुरेश कश्यप तथा भाई शिवा कश्यप के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है.

टीम ने सीमा कश्यप के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए उनकी गिरफ्तारी की अनुमति के लिए विभागीय अधिकारियों को लिखा है. जानकारी के अनुसार नगर परिषद में डोर-टू-डोर कूड़ा उठाने का ठेका बलबीर सिंह को दिया हुआ है. बलबीर ने विजिलेंस विभाग कैथल को दी शिकायत में आरोप लगाया था कि उसने अपने काम की एवज में जब नगर परिषद से चैक देने की मांग की तो नगर परिषद की चेयरमैन सीमा कश्यप ने चेक नहीं दिया.

बार-बार टरकाने के बाद जब उसने सीमा कश्यप से बात की तो उसने कहा कि वह उसके पिता सुरेश कश्यप से बात करें. सुरेश कश्यप ने उसे चेक देने के लिए साढ़े चार लाख की रिश्वत देने की मांग की. बाद में उनका सौदा तीन लाख में तय हो गया. विजिलेंस इंस्पेक्टर सुरेश कुमार ने इसके लिए नायब तहसीलदार हरिकेश को डयूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त कर टीम का गठन किया.

इसके बाद तीन लाख रुपए की राशि पर केमिकल लगाकर विजिलेंस ने ठेकेदार बलबीर को सुरेश के अमरगढ़ गामड़ी स्थित ऑफिस में भेजा, जहां सुरेश ने पैसा लेकर गिनने के लिए अपने बेटे शिवा को दिए. राशि पूरी मिलने पर उसे 50 लाख रुपए का चेक दे दिया गया. ये चेक 2 माह के काम का था. चेक मिलते ही बलबीर ने टीम को इशारा कर दिया. इसके बाद विजिलेंस टीम ने मौके से तीन लाख रुपए समेत पिता व पुत्र को गिरफ्तार कर लिया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.