Home /News /haryana /

farmers sit on a dharna indefinite strike in the electricity office in kaithal for connections of the tubewells nodvm

ट्यूबवेल बिजली कनेक्शन नहीं मिलने से धरने पर बैठे नाराज किसान, गुरनाम चढूनी ने दी चेतावनी

ट्यूबवेल के बिजली कनेक्शनों को लेकर कैथल में बिजली दफ्तर में किसान धरने पर बैठ गए हैं.

ट्यूबवेल के बिजली कनेक्शनों को लेकर कैथल में बिजली दफ्तर में किसान धरने पर बैठ गए हैं.

Farmers Protest: ट्यूबवेल के बिजली कनेक्शनों को लेकर कैथल में बिजली दफ्तर में किसान धरने पर बैठ गए हैं. किसान अनिश्चितकाल काल के लिए धरने पर बैठे हैं, जिसमें कुछ किसान भूख हड़ताल पर भी है. भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि सिर्फ गरीब किसानों को ही 8 साल तक कनेक्शनों से दूर रखा जा रहा है. फैक्ट्री वालों को दो दिन में कनेक्शन दे दिए जाते हैं.

अधिक पढ़ें ...

कैथल. ट्यूबवेल के बिजली कनेक्शनों को लेकर कैथल में बिजली दफ्तर में किसान धरने पर बैठ गए हैं. किसान अनिश्चितकाल काल के लिए धरने पर बैठे हैं, जिसमें कुछ किसान भूख हड़ताल पर भी है. एक न्यूज वेबसाइट के मुताबिक, प्रदर्शनकारियों का कहना है कि यह धरना किसानों को ट्यूबवेल कनेक्शन न देने की वजह से हो रहा है, क्योंकि अधिकतर किसानों ने ट्यूबवेल कनेक्शन के लिए आवेदन किया था, लेकिन उन्हें तब तक कोई कनेक्शन नहीं मिला है.

वहीं किसानों की आवाज बुलंद करने के लिए भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह चढूनी भी कैथल पहुंचे. इस दौरान उन्होंने बिजली विभाग के SE काैशिक मान से सवाल जवाब भी किए और किसानों की तरफ से अपनी बात रखी.

अगर बात नहीं सुनी तो लगा देंगे ताला: चढूनीं

भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि सिर्फ गरीब किसानों को ही आठ साल तक कनेक्शनों से दूर रखा जा रहा है. फैक्ट्री वालों को दो दिन में कनेक्शन दे दिए जाते हैं. काफी बातों को लेकर SE बिजली विभाग ने सहमति जताई और बात को उच्च अधिकारियों के संज्ञान में डालने की बात कही. गुरनाम चढूनी ने SE को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर समाधान नहीं हुआ तो सोमवार को बिजली दफ्तर को ताला लगा दिया जाएगा.

किसानों के समर्थन में पहुंचे किसान नेता गुरनाम चढूनी ने कही ये बातें

-8 साल से पेंडिंग पड़े ट्यूबवेल बिजली कनेक्शन के खिलाफ धरने पर बैठे किसानों के समर्थन में पहुंचे गुरनाम चढूनी.

-फैक्ट्री कनेक्शन दो दिन में दे दिया जाता है और किसानों को 8 साल से धोखे में रखा जा रहा.

-सरकार खेती पर खर्च नहीं कर रही जिसकी वजह से बहुत नुकसान हो रहा.

-सरकार ने नियम ऐसे बना दिये कि नियम पूरे ही ना हो.

-सरकार इतना परेशान कर देना चाहती है कि किसान किसानी छोड़ दें.

-अगर समाधान नही हुआ तो आने वाले सोमवार को बिजली दफ्तर को लगाएंगे ताला.

-किसान अगर हमारी बात मानकर एक साल बीज ना बोये तो सबक मिल जाएगा.

Tags: Gurnam Singh Chaduni, Haryana news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर