पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश बोले- 'दुष्यंत व दिग्विजय के चेहरे पर नूर नहीं'

कलायत अनाज मंडी में आयोजित धन्यवाद सम्मेलन के दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश

जयप्रकाश ने उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) और दिग्विजय चौटाला (Digvijay Chautala) पर कटाक्ष करते हुए कहा कि 'दोनों भाइयों के चेहरे से नूर गायब हो गया है. चेहरे उनके चमकेंगे जिनके मन में दोष न हो, जिनमें कुछ करने की उमंग हो.'

  • Share this:
कैथल. हरियाणा (Haryana) के कैथल (Kaithal) जिले में पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश ने चौटाला परिवार को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया है. उन्होंने प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) और दिग्विजय चौटाला (Digvijay Chautala) पर कटाक्ष करते हुए कहा कि 'दोनों भाइयों को चिट्टे (नशे) की लत है. परिणामस्वरूप इनकी युवा अवस्था में ही चेहरे से नूर गायब हो गया है. चेहरे उनके चमकेंगे जिनके मन में दोष न हो, जिनमें कुछ करने की उमंग हो.'

भाइयों को जनता की नहीं केवल निजी हितों की परवाह: जयप्रकाश 

इन दोनों भाइयों को राज्य की जनता की नहीं केवल निजी हितों की परवाह है, इसलिए जनता के खून पसीने की कमाई को लूटकर विदेशी बैंकों में भरा जा रहा है. बता दें कि पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश ने ये बातें कलायत अनाज मंडी में आयोजित धन्यवाद सम्मेलन के दौरान बोली हैं. आयोजन के मुख्य मेहमान रोहतक संसदीय क्षेत्र के पूर्व सांसद दीपेंद्र हुड्डा थे. जेपी ने कहा कि उन्होंने कभी डरकर राजनीति नहीं की, अगर दुष्यंत चौटाला उनके खिलाफ मानहानि का दावा करना चाहें तो कर लें. उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने जेजेपी के संगठन के दिनों में साथ दिया था, उन्हीं की भावनाओं को चौटाला ने बीजेपी से गठजोड़ करके तार-तार कर दिया है.

जेपी ने कहा कि उन्हें खुद की लोकप्रियता पर इतना ही विश्वास था तो पहले इस्तीफा देते फिर जाकर बीजेपी से हाथ मिला लेते. जेपी ने सियासी दांव खेलते हुए मंच से खुद के बेटे विकास सहारण को राज्य की सक्रिय राजनीति और दीपेंद्र हुड्डा को भावी मुख्यमंत्री प्रोजेक्ट किया. साथ ही ऐलान किया कि उनके इस प्रस्ताव से हो सकता है कि पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा उनसे नाराज हो जाएं. उनका हुड्डा परिवार से राजनीतिक नहीं बल्कि पारिवारिक नाता है. कुनबे में सभी को अपनी राय रखने का अधिकार है.

आपसी कलह से जूझ रही बीजेपी और जेजेपी: दीपेंद्र हुड्डा

वहीं इस दौरान दीपेंद्र हुड्डा ने भी जेजेपी और बीजेपी की गठबंधन को लूट-खसौट और दूसरे निजी स्वार्थों की पूर्ति के लिए किया गया बताया है. दीपेंद्र ने कहा कि आपसी कलह से बीजेपी और जेजेपी जूझ रही है. उन्होंने कहा कि प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज विभिन्न मामलों को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल से नाराज हैं. जेजेपी विधायक रामकुमार गौतम खुद उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला पर गंभीर आरोपों की झड़ी लगा रहे हैं. दोनों दलों का सांझा कार्यक्रम लूट-खसौट और दूसरे निजी स्वार्थों पर टिका है. इन परिस्थितियों में किसी भी समय हरियाणा में गठबंधन सत्ता से बाहर हो सकता है.

 ये भी पढ़ें:- 1 जून से भिवानी के लोगों को मिलेगी 24 घंटे बिजली

 ये भी पढ़ें:- खेतों से चारा लेने गई नाबालिग का अपहरण, जांच में जुटी पुलिस

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.