लाइव टीवी

हरियाणा की छोरी ने स्वीडन में आयोजित बॉक्सिंग चैंपियनशिप में जीता गोल्ड, घर लौटने पर हुआ जोरदार स्वागत
Kaithal News in Hindi

Virender Puri | News18 Haryana
Updated: February 6, 2020, 10:55 AM IST
हरियाणा की छोरी ने स्वीडन में आयोजित बॉक्सिंग चैंपियनशिप में जीता गोल्ड, घर लौटने पर हुआ जोरदार स्वागत
हरियाणा की लाशु यादव ने बॉक्सिंग में जीता गोल्ड

लाशु यादव ने डेनमार्क (Denmark) की बॉक्सर को हराकर यह गोल्ड मेडल (Gold Medal) जीता है. लाशु यादव ने डेनमार्क बॉक्सर को 5-0 से हराया.

  • Share this:
कैथल. स्वीडन (Sweden) में आयोजित जूनियर गोल्डन गर्ल इंटरनेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप (Boxing Championship) में जिले की लाशु यादव ने जूनियर बॉक्सिंग चैंपियनशिप 66 किलोग्राम भार वर्ग में गोल्ड मेडल जीतकर भारत और हरियाणा (Haryana) का नाम रोशन किया है. लाशु यादव कैथल के डीएवी पब्लिक स्कूल की 12वीं क्लास की छात्रा है और उसने 66 किलोग्राम भार वर्ग में जूनियर चैंपियनशिप में यह गोल्ड मेडल जीता है. यह जूनियर गोल्डन गर्ल इंटरनेशनल बॉक्सिंग  चैंपियनशिप स्वीडन में आयोजित की गई थी जिसमें 71 देशों ने भाग लिया था.

लाशु यादव ने डेनमार्क की बॉक्सर को हराकर यह गोल्ड मेडल जीता है. लाशु  यादव ने डेनमार्क बॉक्सर को 5-0 से हराया. गोल्डन गर्ल लाशु यादव ने इस जीत का श्रेय अपने कोच और परिजनों को दिया. उन्होंने बताया कि उनका अगला लक्ष्य अगस्त में आयोजित एशियन चैंपियनशिप को जीतने का है और उसमें वह जरूर गोल्ड  लेकर आएगी.

सरकार की सराहना की

लाशु यादव ने हरियाणा में सरकार द्वारा खेलों को प्रोत्साहन दिए जाने को लेकर कहा कि सरकार खिलाड़ियों का अच्छा सहयोग कर रही है. जिसके बलबूते पर खिलाड़ी मेडल लेकर आ रहे हैं.  लाशु  यादव ने बताया कि उनका सपना है कि वह इंटरनेशनल खिलाड़ी बने और देश और  कैथल जिले का नाम रोशन करें.

लाशु यादव का स्वागत करते लोग


पिता बोले- बेटी पर गर्व

लाशु  यादव के पिता रमेश यादव ने कहा कि आज मुझे अपनी बेटी पर गर्व है. इस जीत का श्रेय में लाशु  यादव के बॉक्सिंग कोच जिन्होंने इतनी मेहनत की उनको देता हूं. रमेश यादव ने बताया कि लाशु  बचपन से ही पढ़ाई के साथ-साथ खेलों में भी बहुत अच्छा परफॉर्मेंस कर रही है.  कोच राजेंद्र सिंह व गुरमीत सिंह ने बताया कि आज उन्हें अपने शिष्या पर गर्व है जिन्होंने भारत व कैथल जिले का नाम रोशन किया है.कोच ने कही ये बात

कोच ने बताया लाशु को 2 घंटे सुबह और 3 घंटे शाम को प्रैक्टिस करवा रहे हैं. अगस्त में होने वाली एशियन चैंपियनशिप के लिए हम लाशु को जोरदार तैयारी करवा रहे है. उनका लक्ष्य है कि वह इस चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल लेकर आए.  कोच राजेंद्र सिंह ने बताया कि कैथल बॉक्सिंग का हब बन चुका है यहां काफी खिलाड़ी बॉक्सिंग सीख रहे हैं और प्रदेश व  देश का नाम रोशन कर रहे हैं. वहीं सरकार भी खिलाड़ियों का अच्छा सहयोग कर रही है.

ये भी पढ़ें - करनाल में स्कूली छात्रा पर ब्लेड से हमला, अपहरण करने की भी कोशिश

ये भी पढ़ें - सपना चौधरी ने BJP की चुनावी रैली में पूछा- किसे वोट देंगे? जवाब ने चौंकाया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कैथल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 6, 2020, 10:55 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर