लाइव टीवी

पूंडरी के हैकर ने ई-मेल की मदद से हैक किये बड़ी-बड़ी विदेशी कंपनियों के खाते

Virender Puri | News18 Haryana
Updated: March 4, 2019, 12:46 PM IST
पूंडरी के हैकर ने ई-मेल की मदद से हैक किये बड़ी-बड़ी विदेशी कंपनियों के खाते
कैथल पुलिस

रमेश ने दिखाया कि उसने चीन की कंपनी को भुगतान किया है, जबकि उसकी कंपनी इतना बड़ा व्यवसाय ही नहीं करती.

  • Share this:
पूंडरी के रहने वाले कंप्यूटर हैकर ने चार साल में विदेशी कंपनियों के ई-मेल खातों को हैक करके धोखाधड़ी करते हुए लाखों डॉलर अपने बैंक खाते में ट्रांसफर कर लिए. इसके लिए आरोपी ने खुद की एक कंपनी का हवाला देते हुए विदेशी बैंकों में खाता भी खुलवाए, जिनमें वह विदेशी कंपनियों के खातों में कंप्यूटर की मदद से सेंध लगाने के बाद डॉलर व यूरो ट्रांसफर करता.

भारतीय मुद्रा के अनुसार आंकलन किया जाए तो पूंडरी निवासी हैकर्स रमेश कुमार एक बार कंप्यूटर हैक करके करोड़ों रुपए अपने खातों में ट्रांसफर कर लेता था. विदेशी कंपनियों ने भारत सरकार के पास शिकायत भेजी, जिस पर संज्ञान लेते हुए केंद्र सरकार के उप सचिव वी.विश्वनाथन ने पूंडरी थाना में आईटी एक्ट व धोखाधड़ी का केस दर्ज करवाया है.

वी विश्वनाथन की ओर से पुलिस में दर्ज शिकायत के अनुसार वार्ड-6 पूंडरी के रहने वाले रमेश कुमार ने खुद को वलोरेन लिमिटेड कंपनी का मालिक बताते हुए 19 मई 2015 को रायफेसेन बैंक में खाता खुलवाया. एक मई 2016 को उसने हांगकांग की एक अंतरराष्ट्रीय कंपनी का ई-मेल हैक किया व 287652 यूएस डॉलर अपने खाते में ट्रांसफर कर लिए. अगले दिन हड़पे गए डॉलर चीन की एक कंपनी के बैंक खाते में जमा करवा दिया.

रमेश ने दिखाया कि उसने चीन की कंपनी को भुगतान किया है, जबकि उसकी कंपनी इतना बड़ा व्यवसाय ही नहीं करती. इसके अलावा रमेश ने 26 अगस्त 2015 को एक अन्य बैंक में खाता खुलवाया. 12 दिसंबर 2015 को उसने जर्मनी की इंटरनेट कंपनी का ई-मेल हैक किया और 461255 यूरो अपने खाते में जमा कर लिए. आरोपी ने अगले ही दिन इंटरनेट बैंकिंग की मदद से चीन के बैंकों में राशि ट्रांसफर करने का सात बार प्रयास किया, लेकिन बैंक द्वारा समय पर की गई कार्रवाई के चलते आरोपी ऐसा नहीं कर सका और राशि जर्मन बैंक को वापस कर दी.

पूंडरी से हैक किए गए खाते

शिकायत में आरोप है कि रमेश ने कंपनी के खाते हैक करके धोखाधड़ी करने की नियत से ही बैंक में खाते खुलवाए थे. विदेशी कंपनियों को हैक करने की वारदात पूंडरी में हुई, इसलिए विदेशी पुलिस मामले में कार्रवाई नहीं कर सकी. विदेशी कंपनियों ने मामले की शिकायत भारत सरकार के गृह मंत्रालय को दी. वहां से केस केंद्र सरकार के उप सचिव के पास, फिर मुख्य सचिव हरियाणा के पास आया. सरकार ने पुलिस महानिदेशक के पास शिकायत भेजी और पूंडरी थाना में केस दर्ज हुआ.

क्या है पुलिस का कहनाथाना एसएचओ पूंडरी धर्मपाल ने बताया कि हमें गृह मंत्रालय से सूचना प्राप्त हुई थी जिसमे रमेश कुमार वार्ड नम्बर 6 पूंडरी निवासी ने लाखों डॉलर और यूरो की धोखाधड़ी की है. खाते हैक करके लाखो डॉलर की ट्रांजेक्शन की है. मामला दर्ज कर लिया है और केस इकोनॉमिक सैल व साइबर को भेज दिया है.

ये भी पढ़ें--

पानीपत में महिला ने दिया 2 सिर, 4 हाथ वाले बच्चे को जन्म, लोगों ने बताया कुदरत का करिश्मा

अभय चौटाला का ऐलान, यूपी में कांग्रेस का नहीं सपा-बसपा गठबंधन का साथ देगा इनेलो

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कैथल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 4, 2019, 12:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर