लाइव टीवी

'सरकार अगर गरीब व किसानों की सेवा नहीं कर सकती, तो उसे सत्ता में रहने का कोई हक़ नहीं'

News18 Haryana
Updated: November 8, 2019, 2:17 PM IST
'सरकार अगर गरीब व किसानों की सेवा नहीं कर सकती, तो उसे सत्ता में रहने का कोई हक़ नहीं'
ज्ञापन सौंपते कांग्रेसी

किसानों (Farmers) की दुर्दशा (Plight), बेरोजगारी (Unemployment), आर्थिक मंदी (Financial Crisis) को लेकर जिला कांग्रेस ने करनाल में मौन रखकर रोष प्रदर्शन किया.

  • Share this:
करनाल. हरियाणा (Haryana) के करनाल (Karnal) जिले में कांग्रेस (Congress) पार्टी की ओर से सेक्टर 12 में मौन (Silence) रखकर रोष प्रदर्शन (Protest) किया गया. किसानों (Farmers) की दुर्दशा (Plight), बेरोजगारी (Unemployment), आर्थिक मंदी (Financial Crisis) को लेकर जिला कांग्रेस ने मौन प्रदर्शन किया.

शांतिपूर्ण तरीके से कांग्रेस के नेताओं ने जिला सचिवालय (District Secretariat) में पहुंचकर राज्यपाल (Governor) के नाम ADC को ज्ञापन सौंपा है.

कांग्रेस द्वारा आर्थिक मंदी, किसानों की दुर्दशा और बढ़ती बेरोजगारी आदि मुद्दे (Agenda) को लेकर शुक्रवार को करनाल जिले के सेक्टर 12 में मौन रखकर रोष प्रदर्शन किया गया.

'बीजेपी के शासन में किसानों का बुरा हाल हो गया'

इस दौरान मौन प्रदर्शन में पहुंचे असंध से कांग्रेस विधायक (Congress Mla) शमशेर सिंह गोगी (Shamsher Singh Gogi) ने कहा कि बीजेपी (BJP) के शासन में किसानों का बुरा हाल हो गया है. उन्होंने कहा कि पिछले 5 वर्षों में किसानों का जो हाल था, उससे भी ज्यादा बुरा हाल नई सरकार के आने के बाद हुआ है.

शमशेर सिंह गोगी ने कहा कि किसानों के धान को सरकार खरीदने से मना कर रही है. ऐसे में किसानों के सामने इसे बेचने की समस्या खड़ी हो गई है. उन्होंने सरकार पर व्यापारियों से मिले होने और किसानों के साथ धोखा करने का आरोप लगाया है. किसानों की खून-पसीने की कमाई कौड़ियों के भाव खरीदी जा रही है.

आने वाले समय में किसान इसका बदला लेकर रहेगी. उन्होंने कहा कि सरकार अगर गरीब और किसान की सेवा नहीं कर सकती तो उसे सत्ता में बने रहने का कोई हक़ नहीं.
Loading...

(करनाल से हिमांशु नारंग की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें:- अंबाला: वन टाइम यूज प्लास्टिक लाने के बदले में लोगों को मिल रहा चावल...

ये भी पढ़ें:- करतारपुर कॉरिडोर: इस बार पासपोर्ट के जरिये पाकिस्तान जाएगा ‘तारा’

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करनाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 8, 2019, 2:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...