लाइव टीवी

करनाल पुलिस की अकाउंट ब्रांच में 44 लाख का घोटाला, 2 गिरफ्तार
Karnal News in Hindi

News18 Haryana
Updated: February 20, 2020, 9:50 AM IST
करनाल पुलिस की अकाउंट ब्रांच में 44 लाख का घोटाला, 2 गिरफ्तार
करनाल पुलिस की अकाउंट ब्रांच ने फर्जी यूनिक आईडी बना हड़पे टीए के 44 लाख

घोटाले (Corruption) को अंजाम देने के लिए जिम्मेदार अधिकारियों ने फर्जी तौर पर दो बाहरी लोगों को पुलिस (Police) कर्मचारी दिखाया और पुलिस के दो फोर्थ क्लास कर्मचारियों की आईडी में दूसरे कर्मचारियों के पे बिल, टीए व जीपीएफ की अमाउंट डाल दी गई.

  • Share this:
करनाल. अपनी वर्दी के दम पर अपराधियों के मन मे डर पैदा करने वाली, भ्रष्टाचार (Corruption) को रोकने के लिए टीमें बनाने वाली पुलिस (Police) अब खुद घोटाले करने से बाज नहीं आ रही है. ऐसा ही एक मामला करनाल पुलिस की अकॉउंट्स ब्रांच में सामने आया है. इससे करनाल पुलिस की किरकिरी हो रही है. कर्मचारियों ने फर्जी बिल लगाकर 44 लाख का घोटाला किया है. पुलिस विभाग में ही ऐसे कर्मचारी बैठे हैं जो सरकार को चूना लगाने में जुटे थे और घोटाला कर रहे थे. पुलिस ने आरोपी एएसआई साहब सिंह, राजबीर सिंह को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि एक महिला सहित दो कर्मचारियों से पूछताछ की जा रही है.

ऐसे करते थे घोटाला

बता दें कि अकाउंट्स ब्रांच में काम करने वाले कर्मचारी  फर्जी बिल और ट्रेवलिंग बिल बनाते थे. उसके बाद किसी नए कर्मचारी की यूनिक आईडी बनाते थे, जिसमें वो फ़र्ज़ी बिल की और ट्रेवलिंग बिल की रकम डालते थे. अकाउंट्स ब्रांच के कर्मचारियों ने 2 ऐसे कर्मचारियों की यूनिक आईडीभी बनाई जो पुलिस विभाग में काम ही नहीं करते और उनके एकाउंट में पैसों की बरसात करते रहे.

2016 से शुरु हुआ ये खेल



ये घोटाला 2016 से शुरू हुआ था और अब तक चल रहा था. पुलिस के अधिकारियों को इस बात की भनक इसलिए लगी क्योंकि 2  कर्मचारियों के एकाउंट्स में 10 लाख से ज़्यादा चले गए थे. पुलिस को गड़बड़ लगी और जब मामले की जांच की गई तो उन 2 कर्मचारियों का पुलिस विभाग से कोई लेना देना ही नहीं था. फिलहाल इस मामले से करनाल पुलिस की काफी किरकिरी हो रही है.

पुलिस ने मामला दर्ज किया

फिलहाल करनाल के सिविल लाइन थाने में पुलिस ने धारा 420 समेत कई धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है. इसके बाद अकॉउंट्स ब्रांच की फाइलों की जांच के लिए वहां की फाइलों को भी जब्त कर लिया गया है, ताकि ये पता चल सके कि घोटाले में और कौन कौन शामिल था.

यह भी पढ़ें: 

साढ़े तीन लाख का इनामी कुख्यात STF के सामने खोलेगा राज, 10 दिन के रिमांड पर


सोनीपत : सड़क हादसे में जीआरपी के सब इंस्पेक्टर की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करनाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 20, 2020, 9:50 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर