लड़की पक्ष के लोगों ने पुलिस थाने पर किया पथराव, SI और ASI सस्पेंड

Namandeep Singh | News18 Haryana
Updated: September 1, 2019, 10:42 PM IST
लड़की पक्ष के लोगों ने पुलिस थाने पर किया पथराव, SI और ASI सस्पेंड
पुलिस और थाने पर पथराव की घटना के बाद करनाल के एसपी ने डीएसपी को घटना की जांच की जिम्मेदारी सौंपी.

करनाल के निगदू में पुलिस कर्मचारियों और पुलिस थाने पर पथराव किए जाने के बाद पुलिस ने लोगों पर जमकर लाठियां बरसाई. एसपी ने मामले में ढील बरतने पर सब इंस्पेक्टर समेत एएसआई को सस्पेंड कर दिया.

  • Share this:
करनाल के निगदू में पुलिस कर्मचारियों और पुलिस थाने पर पथराव किए (Stone Pelting at Police and Police Station) जाने के बाद पुलिस ने लोगों पर जमकर लाठियां बरसाई (Lathi Charge). एसपी ने मामले में ढील बरतने पर सब इंस्पेक्टर समेत एएसआई को सस्पेंड कर दिया. साथ ही उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने भी कानून को हाथ में लिया है उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. जानकारी के अनुसार ये मामला लड़का और लड़की (Boy's and Girl's Family) पक्ष के परिवारों के बीच चल रहे विवाद का था. निगदू गांव (Nigdu Village) की लड़की की शादी टोहाना के लड़के के साथ हुई थी. लेकिन शादी के बाद जब लड़की के साथ मारपीट की जाने लगी तब वह अपने परिजनों के पास वापस आ गई.



इसके बाद शुक्रवार शाम को लड़के के परिवार के लोग निगदू गांव में पहुंच गए और लड़की के परिवार वालों के साथ बहस करने लगे. मामला इस हद तक बढ़ गया कि दोनों पक्षों के बीच झगड़ा होने लगा. ऐसी नौबत आने पर तुरंत पुलिस को सूचना दी गई. पुलिस के आने के बाद लड़का पक्ष के लोगों को पुलिस को सौंप दिया गया. मगर पुलिस के आने के बाद मामला और बिगड़ गया.

पंचायत में होने वाली थी सुनवाई

दरअसल गांव में पंचायत के माध्यम से लड़का और लड़की पक्ष के विवाद का हल निकलना था. इसके लिए पंचायत बैठनी थी. लेकिन इससे पहले ही पुलिस ने लड़का पक्ष के लोगों को छोड़ दिया. पुलिस द्वारा छोड़ दिए जाने के बाद लड़का पक्ष के लोगों ने लड़की के परिवार वालों के साथ हाथापाई की. इससे मामला गरमा गया. विरोध में लड़की पक्ष के लोग थाने के बाहर बैठ गए. पुलिस ने उन्हें जबरदस्ती उठाया तो लोग भड़क गए और पुलिस के साथ ही पुलिस थाने पर पथराव करने लगे.

गांव में पंचायत के माध्यम से लड़का और लड़की पक्ष के बीच हुए विवाद का हल निकाला जाना था.


पुलिस और थाने पर पथराव की घटना के बाद करनाल के एसपी ने डीएसपी को घटना की जांच की जिम्मेदारी सौंपी. फिर एसपी ने मामले में ढिलाई बरतने के चलते सब इंस्पेक्टर जय भगवान समेत एएसआई अभय राम को सस्पेंड कर दिया. साथ ही जिन लोगों ने कानून को हाथ में लिया उनके खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है. इस घटना के बाद से गांव में तनावपूर्ण माहौल बना हुआ है.
Loading...

ये भी पढ़ें - बच्चा चोर के शक में 15 महिलाएं पुलिस हिरासत में, हंगामा

ये भी पढ़ें - परिजनों ने बेटी की सास को बताया हत्या का मुख्य आरोपी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करनाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 1, 2019, 10:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...