Karnal : पुलिस का दावा, ट्रांसफार्मर चोरी करने वाले 3 गिरोहों के 12 लोग काबू किए गए

पुलिस का मानना है कि इनकी गिरफ्तारी से इलाके में ट्रासंफॉर्मर चोरी की वारदात में कमी आएगी. (सांकेतिक तस्वीर)
पुलिस का मानना है कि इनकी गिरफ्तारी से इलाके में ट्रासंफॉर्मर चोरी की वारदात में कमी आएगी. (सांकेतिक तस्वीर)

पिछले कई दिनों से किसानों के खेतों से ट्रांसफार्मर चोरी करने वाले करनाल पुलिस के लिए सिरदर्द बने हुए थे. ट्रांसफार्मर चोरी की शिकायतें करनाल पुलिस के पास लगातार आ रही थीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 8:18 PM IST
  • Share this:
करनाल. करनाल पुलिस (Karna Police) ने ट्रांसफार्मर चोरी करने वाले तीन गिरोह के 12 आरोपियों (Accused) को गिरफ्तार (Arrest) करने का दावा किया है. पकड़े गए आरोपियों ने 200 जुर्म कबूल किए. इनके पास से 5 गाड़ियां भी पुलिस ने जब्त कीं. चोरी करने वाले गैंग का कनेक्शन दिल्ली, उत्तर प्रदेश व लोकल एरिया के बदमाशों से जुड़े हैं. पकड़े गए आरोपियों में एक शख्स के दोनों हाथ नहीं हैं. ट्रांसफार्मर चोरी करने से पहले वह खेतों में किया करता था.

गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से किसानों के खेतों से ट्रांसफार्मर चोरी करने वाले करनाल पुलिस के लिए सिरदर्द बने हुए थे. ट्रांसफार्मर चोरी की शिकायतें करनाल पुलिस के पास लगातार आ रही थीं. ट्रांसफार्मर चोरों को पकड़ने के लिए करनाल के डिटेक्टिव स्टाफ के इंचार्ज हरजिंद्र सिह के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई थी. इसी टीम ने तीन गैंग के 12 आरोपियों को पकड़ा है.

शुरू में पकड़े गए सहारनपुर के आरोपी हनीफ, दिल्ली के सीलमपुर के खलील खान और मेरठ के पप्पन को गांव घोघडीपुर करनाल के एरिया से गिरफ्तार किया गया था. इन्हें अदालत से रिमांड पर ले जब पूछताछ हुई तो आरोपियों ने अपने गिरोह के दो अन्य साथियों महेंद्र पुत्र और सुरेंद्र के अलावा दूसरे गिरोहों का भी खुलासा किया. दोनों आरोपियों को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था. रिमांड के दौरान हुई पूछताछ के बाद इनकी बताई जगहों से दिल्ली नंबर की 2 गाड़ियां, ट्रांसफार्मर खोलने वाले औजार और 30 किलो क्वाइल तांबा बरामद किया गया.



14 अक्टूबर को करनाल पुलिस की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर दूसरे गिरोह के तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया, इनसे हुई पूछताछ के आधार पर दिल्ली नंबर की 2 मारुती ईको, ट्रांसफार्मर खोलने वाले औजार की एक किट, 18 किलो क्वाइल तांबा बरामद की गई. उसके बाद करनाल पुलिस की टीम ने दिनांक 16 अक्टूबर को तीसरे गिरोह के आरोपी पवन कुमार को गौतमबुद्ध नगर, सलेंद्र कुमार को गांव बडसालू बस अड्डे से व मुकीम को सीलमपुर दिल्ली के इलाके से गिरफ्तार किया गया.
गिरफ्तार किए गए आरोपियों को आज पेश अदालत में पश कर लाइसेंस लेने की कोशिश की जाएगी. बाकि आरोपी अभी रिमांड पर हैं. रिमांड ओपिनियन के लिए आरोपियों से गहनता से पूछताछ की जा रही है. पकड़े गए चारों आरोपियों के खिलाफ जिला करनाल के करीब 200 मुकदमों में संल्पिता पाई गई है. इन मुकदमों में करीब 360 ट्रांसफार्मर चोरी किए गये थे. अन्य मुकदमों में भी आरोपियों की संल्पितता का पता लगाया जा रहा है. पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वे दिन के समय ट्रांसफार्मरों की लोकेशन देखते और रात के समय उन ट्रांसफार्मरों को औजारों से खोलकर या काटकर उसमें से तांबा चोरी करके गाडी में भरकर फरार हो जाते थे. एक रात में करीब 4 से 5 ट्रांसफार्मर को निशाना बनाते थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज