• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • Farmers Protest in Karnal: करनाल में किसानों की प्रशासन से बनी बात, मामले की होगी न्यायिक जांच, छुट्टी पर रहेंगे SDM

Farmers Protest in Karnal: करनाल में किसानों की प्रशासन से बनी बात, मामले की होगी न्यायिक जांच, छुट्टी पर रहेंगे SDM

करनाल में किसानों का प्रदर्शन खत्‍म हुआ. (फाइल फोटो)

करनाल में किसानों का प्रदर्शन खत्‍म हुआ. (फाइल फोटो)

Farmers Protest in Karnal: हरियाणा के करनाल में किसानों और सरकार के बीच चल रहा टकराव आज खत्‍म हो गया है, क्‍योंकि कई मुद्दों पर दोनों के बीच बात बन गयी है. इस दौरान सरकार की तरफ से लाठीचार्ज की वजह से हुई किसान की मौत की न्यायिक जांच रिटायर्ड जज करेंगे. वहीं, मृतक किसान के परिवार के दो लोगों को नौकरी दी जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    करनाल. हरियाणा के करनाल में पांच दिन से चल रहा किसान आंदोलन (Farmers Protest in Karnal) प्रशासनिक अधिकारियों और किसान नेताओं के बीच हुई बैठक में कई मुद्दों पर सहमति बनने के बाद अब खत्‍म हो गया है. इस बीच सिंचाई विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) देवेंद्र सिंह ने बताया कि लाठीचार्ज के दौरान हुई किसान की मौत की न्यायिक जांच रिटायर्ड जज करेंगे. वहीं, मृतक किसान के परिवार के दो लोगों को नौकरी दी जाएगी. यही नहीं, जब तक जांच पूरी नहीं हो जाती तब तक एसडीएम आयुष सिन्हा (SDM Ayush Sinha) छुट्टी पर रहेंगे.

    इसके अलावा सिंचाई विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) देवेंद्र सिंह कहा कि मृतक किसान के परिवार के दो लोगों को नौकरियां 1 हफ्ते में मिल जाएंगी. इस तरह करनाल के मिनी सचिवालय के बाहर कुछ दिनों से चल रहा गतिरोध अब समाप्‍त हो गया है. इस दौरान प्रदेशाध्यक्ष (भाकियू हरियाणा) गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने कहा कि मृतक किसान सुशील काजल के परिवार वालों को डीसी रेट पर दो नौकरी मिल जाएंगी. इसके साथ उन्‍होंने कहा कि अगर प्रशासन एसडीएम के खिलाफ एफआईआर दर्ज करता तो उसके बचने के ज्‍यादा संभावना थी, इसलिए हाइकोर्ट के रिटायर्ड जज इस मामले की जांच करेंगे. वहीं, चढ़ूनी ने कहा कि बैठक से पहले संयुक्‍त किसान मोर्चा के वरिष्‍ठ नेताओं से बातचीत हो चुकी थी. हमारी मांग मान ली गई हैं. इस बैठक में गुरनाम सिंह चढूनी के नेतृत्‍व में 13 किसान नेता पहुंचे थे. इस मीटिंग के बाद 7 सितंबर से चल रहा करनाल मिनी सचिवालय का घेराव खत्‍म हो गया है.

    गुरुग्राम: कामवाली रखने की बात से भड़की इंटीरियर डिजाइनर बहू, सास के साथ की मारपीट, डॉक्‍टर बेटा पहुंचा थाने

    शुक्रवार को चली थी चार घंटे तक मीटिंग
    बता दें कि किसानों और प्रशासन के बीच शुक्रवार को लगभग चार घंटे तक बैठक चली थी. इसमें लाठीचार्ज की बात कर रहे एसडीएम के खिलाफ सख्त कार्रवाई, मामले की न्यायिक जांच, मृतक किसान सुशील काजल के आश्रितों को मुआवजा व नौकरी और अन्य गंभीर घायल किसानों को मुआवजा की मांग किसानों ने रखी थी. वहीं, आज सुबह किसानों और प्रशासन के बीच हुई बैठक में कई मुद्दों पर सहमति बनने के साथ धरना खत्‍म होने का ऐलान हो गया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज