होम /न्यूज /हरियाणा /

Karnal Loot Case: पीड़ित ने शिकायत में बताई थी 8 लाख की लूट, पुलिस ने बरामद किए साढ़े 24 लाख रुपये

Karnal Loot Case: पीड़ित ने शिकायत में बताई थी 8 लाख की लूट, पुलिस ने बरामद किए साढ़े 24 लाख रुपये

करनाल में 8 लाख की लूट में 3 गिरफ्तार.

करनाल में 8 लाख की लूट में 3 गिरफ्तार.

Loot in Karnal: पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 24.41 लाख रुपये की नगदी व वारदात में इस्तेमाल मोटरसाइकिल बरामद कर ली है. आरोपियों से अभी गहनता से पूछताछ जारी है व वारदात में छीनी गई नगदी से ज्यादा बरामद नगदी के बारे में भी गहनता से जांचकी जा रही है.आरोपियों को माननीय अदालत में पेश किया जाएगा

अधिक पढ़ें ...

करनाल. पुलिस की डिटेक्टिव स्टाफ टीम टीम द्वारा बीते कल 16 अगस्त को रेलवे स्टेशन करनाल की पार्किंग से आठ लाख रुपये की नगदी से भरा बैग छीनने की वारदात को अंजाम देने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल हुई है. दरअसल सीताराम नाम का  व्यक्ति अपने साले उमेश के पास भट्टे पर लेबर की देखरेख का काम करता था. उसके साले उमेश ने भट्टे पर लेबर देने का काम लिया हुआ था और वह पहले भी एक बार लेबर को पैसे देने के लिए बिहार गया था और अब फिर वह भट्टे की लेबर को मजदूरी की पेमेंट देने के लिए बिहार जा रहा था. उमेश के कहने पर राहुल नाम का व्यक्ति जो कि भट्टे पर मुखिया का काम करता है, ने उसकी बीते कल  नई दिल्ली से पटना बिहार के लिए टिकट बुक कराई हुई थी और राहुल को बिहार में लेबर की पेमेंट ले जाने की पूरी जानकारी थी.

सुबह 10 बजे एक बैग में आठ लाख रुपये भरकर इनोवा गाड़ी नंबर एचआर 05 बीए 3380 में मकान नंबर 120 सेक्टर 8 से रेलवे स्टेशन के लिए चले थे और इनोवा कार को राहुल चला रहा था. जब वह रेलवे स्टेशन करनाल पर पहुंचे तो बाइक सवार दो अज्ञात आरोपी राहुल के हाथ में से रुपयों से भरा बैग छीनकर मौका से फरार हो गए थे. इस संबंध में  सिविल लाइन करनाल में धारा 379ए आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया था.

मामले में त्वरित व प्रभावी कार्यवाही करते हुए  डिटेक्टिव स्टाफ की टीम ने आज आरोपी राहुल, राहुल का बड़ा भाई रोहित व  संजय को बस अड्डा करनाल के पीछे झुग्गी झोपड़ी से गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार कर लिया है. आरोपियों से प्रारंभिक पूछताछ में जांच में खुलासा हुआ कि वारदात से एक दिन पहले तीनों आरोपियों ने इस वारदात को अंजाम देने के लिए योजना बनाई थी और वारदात को अंजाम देने के बाद रुपयों को आपस में बांटना था. आरोपी राहुल द्वारा दोनों आरोपियों को पहले से ही सारी जानकारी उपलब्ध करा दी गई थी.

वारदात से पहले भी आरोपी राहुल ने ही अन्य दोनों आरोपियों को सूचना दी थी. जिसके बाद पूर्व नियोजित तरीके से बाइक पर सवार होकर आरोपी रोहित व संजय आए और रुपयों से भरा लेकर मौका से फरार हो गए. पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 24.41 लाख रुपये की नगदी व वारदात में इस्तेमाल मोटरसाइकिल बरामद कर ली है. आरोपियों से अभी गहनता से पूछताछ जारी है व वारदात में छीनी गई नगदी से ज्यादा बरामद नगदी के बारे में भी गहनता से जांचकी जा रही है.आरोपियों को माननीय अदालत में पेश किया जाएगा

Tags: Haryana news, Loot

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर