लाइव टीवी

करनाल :छात्र-छात्राओं ने सरकारी बसों की संख्या बढ़ाने की मांग की, उपायुक्त को सौंपा ज्ञापन
Karnal News in Hindi

News18 Haryana
Updated: December 20, 2019, 5:20 PM IST
करनाल :छात्र-छात्राओं ने सरकारी बसों की संख्या बढ़ाने की मांग की, उपायुक्त को सौंपा ज्ञापन
करनाल - सरकारी बसों की मांग को लेकर विद्यार्थियों ने DC से लगाई गुहार

सरकारी बसें होंगी तो गरीब घर के विद्यार्थी अपनी पढ़ाई जारी रख सकेंगे, क्योंकि सरकारी बसों (Government Buses) में ही जीरो बैलेंस का पास (Bus Pass) बनता है. वहीं प्राइवेट बसों में महीना भर का किराया 17 से 18 सौ रुपये होने के चलते गरीब विद्यार्थियों (Students) के सामने आर्थिक समस्या खड़ी हो जाएगी.

  • Share this:
करनाल. सीएम सिटी करनाल (Karnal) में बसों की समस्या को लेकर छात्र व छात्राओं (Students) ने जिला सचिवालय में उपायुक्त को ज्ञापन (Memorandum) सौंपा. दरअसल करनाल में हरियाणा रोडवेज (Haryana RoadWays) की बसों की कमी होने के कारण पढ़ने लिखने वाले विद्यार्थियों को बस स्टैंड पर घर लौटने के लिए घंटों इंतजार करना पड़ता है. बसों का इंतजार खासकर करनाल से गढ़ी बीरबल गांव जाने वाले छात्र-छात्राओं को रोजाना घंटो करना पड़ता है. इसी को लेकर विद्यार्थियों ने इस रूट पर सरकारी बसें (Government Bus) चलाने की मांग की.

हमें सिर्फ सरकारी बसें चाहिए

इस बारे में जिला उपायुक्त कार्यालय में मौजूद छात्रा रविता ने कहा कि हमें सिर्फ सरकारी बसें चाहिए. प्राइवेट बसों में बहुत गुंडगर्दी होती है और लड़कियों के साथ छेड़छाड़ भी की जाती है. साथ ही उसने कहा कि प्राइवेट बसों की बजाए सरकारी बसें होंगी तो गरीब घर के विद्यार्थी अपनी पढ़ाई जारी रख सकेंगे, क्योंकि सरकारी बसों में ही जीरो बैलेंस का पास बनता है. वहीं प्राइवेट बसों में महीना भर का किराया 17 से 18 सौ रुपये होने के चलते गरीब विद्यार्थियों के सामने आर्थिक समस्या खड़ी हो जाएगी. ऐसे में गरीब घर के विद्यार्थी अपनी पढ़ाई जारी नहीं रख पाएंगे. छात्रा ने करनाल से गढ़ी बीरबल गांव के रूट पर कम से कम 5 सरकारी बस चलाए जाने की मांग की.



छात्रा ने कम-से-कम 5 सरकारी बस चलाने की मांग की




बता दें कि फिलहाल करनाल से गढ़ी बीरबल गांव के रूट में लड़कियों के लिए एक सरकारी बस का इंतजाम है. इसमें बहुत सारी छात्राओं को सीट नहीं मिलती है. विद्यार्थियों ने बताया कि उन्होंने इस समस्या को पहले भी कई बार जिला प्रशासन के संज्ञान में लाया है मगर कोई समाधान नहीं निकाला गया.

(करनाल से हिमांशु की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें - शराब ठेकेदार को गोली मारने वाला आरोपी 2 दिनों के पुलिस रिमांड पर, पूछताछ जारी

ये भी पढ़ें - फतेहाबाद: शार्ट सर्किट के कारण घर में लगी आग में व्यक्ति जिंदा जला, मौत
First published: December 20, 2019, 5:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading