लाइव टीवी

मात्र एक मिनट की चूक ने हरियाणा के इन नेताओं को विधानसभा चुनाव लड़ने से रोका

News18 Haryana
Updated: October 6, 2019, 12:16 PM IST
मात्र एक मिनट की चूक ने हरियाणा के इन नेताओं को विधानसभा चुनाव लड़ने से रोका
एक से पांच मिनट देरी के चलते हरियाणा के ये नेता नहीं कर पाए नामांकन (प्रतीकात्मक फोटो)

शुक्रवार को नामांकन भरने (Nomination File) के आाखिरी दिन कई नेता महज एक से पांच मिनट देरी के चलते अपना पर्चा दाखिल नहीं कर सके. इनमें से कुछ निर्दलीय तो दो लोग प्रमुख पार्टियों के उम्मीदवार थे. लेकिन कुछ मिनट देरी के चलते निर्वाचन अधिकारी ने इनका नामंकन पत्र स्‍वीकार नहीं किया.

  • Share this:
करनाल. जीवन में एक मिनट का क्या महत्व होता है, इसके बारे में हरियाणा (Haryana) के नेताओं से बेहतर शायद ही कोई समझे. महज एक मिनट की देरी के चलते ये नेता हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 (Haryana Assembly Election 2019) नहीं लड़ सकेंगे. इन्हें विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए अब इंतजार करना पड़ेगा. दरअसल, शुक्रवार को हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन (Nomination File) का आाखिरी दिन था. ऐसे में कई नेता महज एक से पांच मिनट कीी देरी के चलते नामांकन नहीं कर पाए. इनमें कुछ निर्दलीय (Independent Candidate) तो दो नेता प्रमुख पार्टियों के उम्मीदवार हैंं. कुछ मिनट देरी के चलते निर्वाचन अधिकारी ने इनका नामंकन पत्र स्‍वीकार नहीं किया.

जानकारी के मुताबिक, करनाल जिले के नीलोखेड़ी और करनाल विधानसभा क्षेत्र के लिए नामांकन दाखिल करने पहुंचे तीन प्रत्याशी देर हो जाने की वजह से पर्चा नहीं भर सके. तय समय के मुताबिक शुक्रवार दोपहर तीन बजे नामांकन प्रक्रिया बंद कर दी गई जिससे ये तीनों उम्मीदवार नामांकन भरने से रह गए. इनमें से दो प्रत्याशी नीलोखेड़ी और एक करनाल विधानसभा क्षेत्र से हैं.

समय खत्म हो जाने से नामांकन दाखिल नहीं कर सके

नामांकन दाखिल नहीं कर सकने वालों में पूर्व मंत्री रहे राजकुमार वाल्मीकि का नाम भी शामिल है. वाल्मीकि ने बताया कि शुक्रवार को वो निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में नामांकन पत्र दाखिल करने पहुंचे थे. फाइल चेक करने के बाद उनसे कहा गया कि इसे नोटरी से अटेस्ट करवाना होगा. जब वो नीचे जाकर फाइल अटेस्ट करवाकर वापस ऊपर पहुंचे तो इसमें उन्हें दो मिनट से ज्यादा समय लग गया. इस तरह निर्धारित समय खत्म हो गया और वो नामांकन दाखिल नहीं कर पाए.

तीन बजे पहुंचना था, पांच मिनट लेट पहुंचे
वहीं बाढड़ा में भी शुक्रवार को दोपहर तीन बजकर पांच मिनट पर सतपाल निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर दादरी सीट पर नामांकन फॉर्म जमा करने पहुंचे, लेकिन रिटर्निंग अधिकारी संदीप अग्रवाल ने समय समाप्त होने की बात कहते हुए उनसे नामांकन फॉर्म नहीं लिया. इसी तरह तीन बजकर पांच मिनट पर तिगड़ा निवासी लाल सिंह जनता पार्टी की तरफ से दादरी सीट से नामांकन करने पहुंचे, लेकिन उनसे भी नामांकन फॉर्म नहीं लिया गया.

अंतिम दिन नामांकन से इनकार
Loading...

इस बार के विधानसभा चुनाव में अंबाला सिटी विधानसभा सीट पर शिरोमणि अकाली दल की विशेष कमेटी ने भी अपना प्रत्याशी घोषित किया था. लेकिन शुक्रवार को आखिरी मौके पर वो चुनाव लड़ने से मुकर गया. इसके बाद अभय चौटाला ने दोपहर लगभग दो बजे फोन कर जंदेड़ी के इनेलो प्रत्याशी के तौर पर नामांकन दाखिल करने को कहा. लेकिन इसमें देरी हो जाने के चलते वो भी अपना नामांकन दाखिल नहीं कर सके.

ये भी पढ़ें- 

JJP ने जारी की उम्मीदवारों की आखिरी लिस्ट, इन 5 नामों पर लगी मुहर

JJP नेत्री व Ex MLA नैना चौटाला ने कहा, अजय सिंह की कर्मभूमि से निकलेगी सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करनाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 5, 2019, 9:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...